• Hindi News
  • National
  • 2800 में से 800 से ज्यादा खाते फिर चालू, अब जल्द मिलने लगेगी पेंशन

2800 में से 800 से ज्यादा खाते फिर चालू, अब जल्द मिलने लगेगी पेंशन

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जनपद व निकाय स्तर से हो रहा सुधार, तीन माह में राशि निकालने की दे रहे हिदायत

भास्कर संवाददाता | खरगोन

कम बैलेंस व अधूरे दस्तावेजों के चलते बंद किए गए पेंशन खाते दोबारा खुलने शुरू हो चुके हैं। 2800 ब्लॉक किए गए खातों में से 800 से ज्यादा खाते दोबारा शुरू कर दिए हैं। अब इन लोगों को जुलाई से नई व्यवस्था के तहत पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी। हालांकि न्यूनतम बैंलेंस रखने की अनिवार्यता जारी है। जनपद व नगरीय निकायकर्मी तीन माह में एक बार पेंशन निकालने की हिदायत भी दे रहे हैं।

हर माह 300 से 500 रुपए की पेंशन प्राप्त करने वाले हितग्राहियों के लिए बैंक ने 1 अप्रैल से न्यूनतम बैलेंस रखने की अनिवार्यता रख दी है। इसके साथ ही हर तीन माह में राशि नहीं निकालने, अधूरे दस्तावेज जमा करने सहित अन्य कारणों से 2800 खाते ब्लॉक कर दिए गए। दैनिक भास्कर में 6 जुलाई को ये मुद्दा प्रमुखता से प्रकाशित किया। इसके बाद सामाजिक न्याय विभाग ने जनपद व नगरीय निकायों को इन खातों को जल्द से जल्द खुलवाने के आदेश दिए। जिसमें अभी तक 849 खाते दोबारा खोल दिए गए है। 1170 खाते बैंक में दोबारा भेज दिए गए है।

जुलाई से भोपाल से आएगी पेंशन-इस माह इन लोगों के खाते खुलना जरूरी है। वरना कभी पेंशन का लाभ नहीं ले सकेंगे। सामाजिक न्याय एवं निशक्त कल्याण विभाग ने इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट ऑर्डर (ईपीओ) से डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर (डीपीटी) योजना लागू की है। इससे जून माह की पेंशन जुलाई में सीधे भोपाल से हितग्राहियों के खाते में आएगी।

जनपद व निकाय स्तर से खाते खुलवाए जा रहे हैं। अभी तक 840 से ज्यादा खाते खोल चुके हैं। 1200 खाते बैंक में भेजे जा चुके हैं। - आरके सिंह, उपसंचालक, सामाजिक न्याय विभाग

खबरें और भी हैं...