• Hindi News
  • National
  • रोज योग करने से स्थिर रहता है दिमाग

रोज योग करने से स्थिर रहता है दिमाग

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
विद्यार्थी अवस्था में ही रोजाना योग करने आदत डाल ले तो जीवन भर बीमारियों का साया आप पर नहीं पड़ेगा। वर्तमान समय में सीने दर्द होना, शुगर, ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल बढ़ना, मोटापा जैसी कई बीमारी अकारण पैदा हो रही है। छोटी आयु में बीमारियों में घिर जाने से पढ़ाई, व्यवसाय सहित अन्य पर गलत प्रभाव पड़ता है। इससे वह पिछड़ जाता है। विद्यार्थियों को पढ़ाई के लिए दिमाग स्थिर करने की जरूरत रहती है। ताकि वह सुकून से पढ़ाई कर सके। इसके लिए विद्यार्थियों को रोजाना योग का अभ्यास कर अपने दिमाग को स्थिर रखा जा सकता है।

शासकीय बालक प्राथमिक उत्कृष्ट विद्यालय पानसेमल में लगे योग शिविर में योग गुरु कृष्णकांत सोनी ने यह बात कही। उन्होंने कहा संसार के सभी सुखों का आनंद स्वस्थ व्यक्ति ही ले सकता है। रोगी व्यक्ति नहीं। अभी भी समय है। हमारे ऋषि-मुनियों की प्राचीन विद्या योग व प्राणायाम के अभ्यास से रोगों से बचकर दिमागी संतुलन बनाए रख सकते हैं। नि:शुल्क योग शिविर में योगगुरु ने योग के विभिन्न गुर सिखाए। ठंड में भोजन के साथ दो चम्मच शहद लेने से पाचन क्रिया में सुधार होता है। रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ती है। बसंती डुडवे, सावित्री बरडे, सुनीता वर्मा, बिसन सेनानी, संजय वर्मा थे।

सरकारी स्कूल में शिविर में योग का अभ्यास करते विद्यार्थी

खबरें और भी हैं...