पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • दिलीप पाटीदार के लापता होने का मामला

दिलीप पाटीदार के लापता होने का मामला

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीबीअाई की क्लोजर रिपोर्ट पर विचार अब 13 को

एटीएस चार साल पहले पूछताछ के लिए ले गई थी पाटीदार को, अब तक नहीं लौटा

भास्करसंवाददाता | इंदौर

दिलीपपाटीदार के लापता होने के मामले में सीबीआई द्वारा पेश क्लोजर रिपोर्ट पर अदालत में 13 नवंबर को विचार होगा। पाटीदार को मालेगांव ब्लास्ट मामले में एटीएस मुंबई की टीम लगभग चार साल पहले इंदौर से ले गई थी, किंतु वह अब तक नहीं लौटा।

पाटीदार के लापता होने पर उसके परिजनों ने हाई कोर्ट की इंदौर खंडपीठ में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर की थी। इस पर कोर्ट ने एटीएस को पाटीदार को पेश करने के आदेश दिए थे। लंबे समय तक पेश नहीं करने पर कोर्ट ने जांच सीबीआई को सौंप दी थी। सीबीआई ने लगभग एक वर्ष तक जांच के बाद हाल ही में क्लोजर रिपोर्ट निचली अदालत को सौंपी है। उसमें कहा गया है कि एटीएस के दो अफसर इसके लिए दोषी हैं। उनके खिलाफ सीबीआई एफआईआर दर्ज करना चाहती है, किंतु केंद्र सरकार ने इसकी अनुमति नहीं दी। विशेष सीबीआई न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में हुई सुनवाई में क्लोजर रिपोर्ट पर विचार होना था। अदालत ने अब इसके लिए 13 नवंबर तय की है। उसमें यह तय होगा कि क्लोजर रिपोर्ट खारिज की जाए या जांच के लिए लौटाई जाए।