पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • एक सप्ताह में नल जल योजना प्रारंभ नहीं हुईं तो भेजेंगे कार्रवाई का प्रस्ताव

एक सप्ताह में नल-जल योजना प्रारंभ नहीं हुईं तो भेजेंगे कार्रवाई का प्रस्ताव

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ईई पीएचई ने दिए बैठक में निर्देश

भास्कर संवाददाता | मुरैना

पीएचई विभाग के अधिकारी और संबंधित ग्राम पंचायत के सरपंच यह सुनिश्चित करें कि बंद पड़ी नल-जल योजनाएं एक सप्ताह में चालू हों नहीं तो अधिकारी, कर्मचारी व ग्राम पंचायत के विरुद्ध कार्रवाई का प्रस्ताव कलेक्टर को भेजा दूंगा। यह निर्देश ईई पीएचई केआर गोयल ने रविवार को कलेक्टोरेट सभागार में आयोजित बैठक में दिए। इस अवसर पर संबंधित जनपद सीईओ सहित ग्राम पंचायतों के सरपंच मौजूद रहे।

ईई गोयल ने कहा कि जिले में 24 और 8 नल-जल योजनाएं बिजली के अभाव में या पाइप लाइन कम होने के कारण बंद हैं। ऐसी बंद नल योजनाओं के लिए प्रथम किस्त के रूप में 24 नल-जल योजना के लिए 13लाख 39 हजार रुपए और 8 के लिए 6लाख 39हजार रुपए की राशि जारी कर दी गई है। अब यह नलजल योजनाएं पैसे के अभाव में बंद न रहें। उन्होंने कहा कि सपचौली को 91 हजार, सिकरोली को 51, बागचीनी को 1.76, सागोरिया को 86 हजार, पलना 1.55, सुनावली को 82, झोंड को 78, खडिया पोरसा को 82 हजार रुपए की राशि प्रदान की गई है। इनके अलावा रैपुरा को 48 हजार, खेरली को 1लाख 62हजार, हिंगावली 48, गूंज 84, कोलुआ 83, भानपुर 50, करोला 45, करूआ 48, लोहबसई 84, धमकन 46, नोहरावली 29, धौंधा 71, धूरकूडा 4 हजार, कन्हार 48, टिकटोली 67, चिन्नौनी करैरा 60, देवरी को 35, बधरेंटा को एक लाख, गुलपुरा को 34, रामपहाडी 32, बेरखेडा 80, सेमना 43, पासोनकलां को 34 हजार रपुए की राशि प्रदान की जा चुकी है।

रविवार को पीएचई ने बैठक में दिए निर्देश।

खबरें और भी हैं...