पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • आंध्रप्रदेश में बैतूल पुलिस बनी ट्रक खरीदार फिर पकड़ा बोलेरो चोर

आंध्रप्रदेश में बैतूल पुलिस बनी ट्रक खरीदार फिर पकड़ा बोलेरो चोर

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
{ चोरों ने एक-एक लाख में बेची थी दो गाड़ियां

नगरसंवाददाता|बैतूल

बैतूलके पाढर और भौरा क्षेत्र से करीब 8 माह पहले चोरी हुई दो बोलेरो को पुलिस ने आंध्रप्रदेश से बरामद करने के साथ ही एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, जबकि चोरी के मामले में लिप्त उज्जैन का एक आरोपी फरार है। बैतूल पुलिस को इन बोलेरो चोरों को पकड़ने के लिए आंध्रप्रदेश में ट्रक का खरीदार बनना पड़ा, तब चोर हाथ सका। गुरुवार को कोतवाली टीआई पंकज त्यागी ने बोलेरो चोरों के इस अंतरराज्यीय गिरोह का खुलासा किया।

मार्चमें हुई थी चोरी

8-9मार्च 2014 को पाढर के चमन राठौर और भौरा क्षेत्र के सुनील राठौर की बोलेरो घर के सामने से चोरी हो गई थी। पाढर और शाहपुर थाने में मालिकों ने इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इससे पहले शाहपुर के मुकेश मालवीय की गाड़ी चोरी हुई थी। पुलिस ने इसे नागपुर से बरामद किया था, लेकिन इन दो बोलेरो का कुछ पता नहीं चल रहा था। इस पर टीम गठित कर पुलिस ने पड़ताल जारी रखी थी।

भोपाल की क्राइम ब्रांच ने वाहन चोर गिरोह को पकड़ा था। इनमें छिंदवाड़ा के शंकर साहू , घोड़ाडोंगरी के विकास गोस्वामी, वकील यादव और भोपाल के मन्नू ठाकुर को गिरफ्तार किया गया। इनमें 8-9 मार्च की डेट में छिंदवाड़ा के शंकर साहू, घोड़ाडोंगरी के विकास गोस्वामी की मोबाइल फोन लोकेशन पाढर क्षेत्र में मिली। इस पर बैतूल पुलिस ने इनसे सख्ती से पूछताछ की गई। इसमें गाड़ी चोरी कर बेचने का खुलासा किया। वाहन चोर शंकर साहू, विकास गोस्वामी ने घटना दिनांक को बोलेरो चोरी करके भोपाल के मन्नू ठाकुर के साथ षड़यंत्र रचकर उज्जैन के वसीम पठान को बेच दी थी। वसीम पठान ने बोलेरो को आंध्रप्रदेश ले जाकर किसी साईं उर्फ अन्ना नाम के व्यक्ति को बेच दी थी। इसकी जानकारी होने पर पुलिस आंध्रप्रदेश के लिए रवाना हुई।

कॉल डिटेल के सहारे आरोपियों तक पहुंचे

बैतूलपुलिस ने सायबर सेल से मोबाइल कॉल डिटेल निकाली और फिल्टर करने पर अन्ना का नंबर मिला। बैतूल एसपी ने इन अंतरराज्यीय चोरों को पकड़ने एसआई देवसिंह धुर्वे, एएसआई जुगल किशोर, हेड कांस्टेबल संजय रघुवंशी, कांस्टेबल अजय, संतोष की टीम बनाई। इस टीम ने कॉल डिटेल के सहारे आंध्रप्रदेश में कांस्टेबल रवि इंगले की मदद से अन्ना को ट्रक खरीदने के लिए बुलाया। आंध्रप्रदेश के हिकमत अली क्षेत्र से उसे पकड़कर पूछताछ की गई। उसने बोलेरो उज्