• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Bhind
  • ग्वालियर से इटावा के लिए चलेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेन, सर्वे शुरू
--Advertisement--

ग्वालियर से इटावा के लिए चलेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेन, सर्वे शुरू

बिरला नगर से भिंड के लिए किया जा रहा है इलेक्ट्रिफिकेशन का सर्वे भास्कर संवाददाता | भिंड भिंड-ग्वालियर रूट पर...

Dainik Bhaskar

Jul 04, 2015, 02:10 AM IST
ग्वालियर से इटावा के लिए चलेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेन, सर्वे शुरू
बिरला नगर से भिंड के लिए किया जा रहा है इलेक्ट्रिफिकेशन का सर्वे

भास्कर संवाददाता | भिंड

भिंड-ग्वालियर रूट पर अभी सिर्फ डीजल की ट्रेन ही चल रही है, पर अब इस रूट पर जल्द ही इलेक्ट्रिक गाड़ी चलना शुरू हो जाएंगी। इसके लिए विभाग के अधिकारियों ने सर्वे शुरू कर दिया है। यह सर्वे ग्वालियर के बिरला नगर से इटावा तक किया जाएगा। करीब 15 दिन में सर्वे का काम पूरा होने का अनुमान है।

ग्वालियर से भिंड के बीच डीजल ट्रेन चलाई जा रही हैं। भिंड से इटावा का काम भी लगभग पूरा हो चुका है। जल्द ही इस ट्रैक पर भी ट्रेन चलना शुरू होंगी। इसी को देखते हुए इलेक्ट्रिफिकेशन करने के लिए रेलवे की टीआरडी (ट्रेक्शन डिस्ट्रीब्यूशन) टीम ने सर्वे का काम शुरू कर दिया है। उम्मीद की जा रही है कि टीम अगले 15 दिन में यह काम पूरा कर लेगी। गुना से इटावा के बीच रेल प्रोजेक्ट की कुल लंबाई करीब 300 किमी है। इसको तैयार करने में करीब 300 करोड़ की लागत आई है। इसका निर्माण कार्य 80 के दशक में शुरू हुआ था।

प्रोजेक्ट की 300 किमी लंबाई

इस प्रोजेक्ट की कुल लंबाई 300 किलोमीटर से ज्यादा है। यह लंबाई गुना- से ग्वालियर और भिंड होते हुए इटावा तक है। इस पर करीब 300 करोड़ की लागत आई है। 80 के दशक से इसका काम शुरू हुआ, जो जुलाई 2015 तक पूरा होने की संभावना है।

भिंड-इटावा रेल लाइन, जल्द ही इलेक्ट्रिक गाड़ी चलना शुरू हो जाएंगी।

प्रोजेक्ट से यह होगा फायदा

इंजन बदलने की झंझट से मुक्ति: वर्तमान में गुना से इंदौर और ग्वालियर की ओर जाने वाली गाड़ी में डीजल इंजन लगाना पड़ता है। कुछ गाड़ियां ग्वालियर तक इलेक्ट्रिक इंजन के साथ आती हैं और वहां यह बदलाव करना पड़ता है।

ट्रेन की रफ्तार बढ़ेगी: इलेक्ट्रिक इंजन लगने से ट्रेनों की रफ्तार बढ़ जाएगी। इसके अलावा गाड़ियों में ज्यादा बोगी भी लगाना संभव होगा।

ट्रेन की संख्या बढ़ेगी : इन रूटों से अधिक ट्रेन गुजारना संभव होगा। कारण यह है कि इंजन के साथ स्टाफ भी बदलना पड़ता है। इसे लेकर कई तरह की समस्या आती हैं इसलिए लंबी दूरी की ट्रेन यहां से नहीं गुजारी जाती।

X
ग्वालियर से इटावा के लिए चलेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेन, सर्वे शुरू
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..