• Hindi News
  • National
  • बच्चों ने निकाली रैली, मद्य निषेध का लिया संकल्प

बच्चों ने निकाली रैली, मद्य निषेध का लिया संकल्प

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के शहादत दिवस पर स्कूली बच्चों व राजनीतिक दलों ने उन्हें याद किया और प्रतिमा पर पुष्पाहार कर गांधी के बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। स्कूली बच्चों ने रैली निकालकर मद्य निषेध का संकल्प लिया। सभी शासकीय कार्यालय, स्कूलों में सुबह 11 बजे दो मिनट का मौन रखकर याद किया।

एक्सीलेंस स्कूल नंबर 1 के छात्रों ने सुबह 11 बजे स्कूल परिसर में दो मिनट का मौन रखकर राष्ट्रपिता को याद किया फिर रैली निकालकर मद्य निषेध के प्रति संकल्प लिया। कार्यक्रम अधिकारी धीरज गुर्जर के नेतृत्व में एनएसएस कार्यकर्ताओं ने भी इसमें हिस्सा लिया। उन्होंने मद्यपान से व्यक्ति, समाज में फैलने वाली कुरीतियों पर प्रकाश डाला। उन्होंने इससे राष्ट्र को होने वाले नुकसान के बारे में भी अवगत कराया। शपथ प्राचार्य एनएस भदौरिया ने दिलाई। शहादत दिवस पर सरकारी दफ्तरों में भी दो मिनट का मौन रखा गया। कलेक्टोरेट, शिक्षा विभाग, पीएचई, जिला शिक्षा केन्द्र में भी कर्मचारियों ने मौन रखकर उनको याद किया दी।

शहर में रैली निकालते छात्र-छात्राएं।

राजनीतिक दलों ने भी किया याद
कांग्रेस जिलाध्यक्ष रमेश दुबे, रामदास सोनी, शिवप्रताप सिंह सहित कार्यकर्ताओं ने गांधी मार्केट स्थित गांधी जी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की और गांधी जी द्वारा बताए गए मार्ग पर चलने का आह्वान किया। दुबे ने कहा कि 30 जनवरी 1948 को नाथूराम गोड़से ने गोलीमारकर हत्या कर दी थी। एक तरह से गोड़ने से गांधीवादी विचारधारा की हत्या करने की कोशिश की थी लेकिन गांधी का विचार न तो पहले कभी मरा और न आगे कभी मरेगा। उन्होंने देश के लिए गांधीवादी मार्ग पर चलने का भी आह्वान किया और कहा कि इसी मार्ग पर चलकर देश की एकता और अखंडता पर चलने का आह्वान किया। आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी ने भी गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें याद किया।

शहादत दिवस
खबरें और भी हैं...