• Hindi News
  • National
  • गुस्साए विधायक ईई से बाेले जनता परेशान है, ठेकेदार पर कार्रवाई करो

गुस्साए विधायक ईई से बाेले- जनता परेशान है, ठेकेदार पर कार्रवाई करो

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक में अनुपस्थित रहे पांच विभाग के प्रमुख इनके खिलाफ लिखा प्रमुख सचिव काे पत्र

भास्कर संवाददाता | भिंड

शहर की अधूरी पड़ी जेल रोड को लेकर विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह समीक्षा बैठक के दौरान शुक्रवार को पीडब्ल्यूडी के ईई एसएस ठाकुर पर भड़क गए। विधायक ने पूछा कि जेल रोड की सड़क क्यों नहीं बन रही। इस पर ईई ने कहा कि हमने ठेकेदार से बात कर ली है। वह सड़क बनाने के लिए तैयार हो गया है। उसने लिखकर भी दे दिया है कि 15 अगस्त तक नाले से चौराहे के बीच निर्माण कार्य पूरा कर देगा।

इसके बाद गुस्साए विधायक ने कहा कि ठेकेदार तो कई बार लिखकर दे चुका है। उसने कलेक्टर को भी झूठे आश्वासन दिए हैं। अब बरसात आ गई है और जनता को परेशान हो रही है। इसलिए ठेकेदार से काम कराओ व उसके खिलाफ कार्रवाई भी करो।

पीएचई का ड्राफ्टमैन नहीं दे सका जरूरी जानकारी: पीएचई की ओर से मीटिंग में ड्राफ्ट मैन को भेजा गया, कोई दूसरा अधिकारी नहीं आया। ड्राफ्ट मैन भी ठीक से जबाव नहीं दे पा रहा था। इस पर विधायक नाराज हुए। इन्होंने कहा कि तुम यहां मत आया करो।

जनपद पंचायत भिंड में शुक्रवार की दोपहर तिमाही समीक्षा बैठक हुई। इसमें अध्यक्ष, एसडीएम संतोष तिवारी, जनपद सीईओ प्रसन्न चक्रवर्ती समेत वन विभाग, पीएमजीएसवाई, आरईएस, पशु चिकित्सा, एग्रीकल्चर, शिक्षा विभाग, पीएचई, पीडब्ल्यूडी व जल संसाधन आदि विभागों के अधिकारी मौजूद थे। पीडब्ल्यूडी की समीक्षा करते हुए विधायक ने कहा कि जल्द से जल्द सड़कों का काम पूरा कराओ। इन्होंने कॉटनजीन की खराब सड़क को ठीक कराने के निर्देश दिए और कहा कि वहां बरसात का पानी भरा है, आज ही गिट्टी डलवाई जाए। इस पर एसडीओ ने कहा कि गिट्टी डलवा देंगे। इस पर विधायक नाराज हो गए और कहा कि उस रोड पर मंशापूर्ण हनुमान मंदिर है। इसलिए गिट्टी आज ही डलनी चाहिए क्योंकि श्रृद्धालुओं को बेहद तकलीफ हो रही है और यह आस्था से जुड़ा मामला है। विधायक ने इंदिरा गांधी चौराहे से सुभाष तिराहे की सड़क को भी जल्द बनवाने के निर्देश दिए। जल संसाधन के एलपी शर्मा से नहरों के बारे में जानकारी ली।

अधिकारी नहीं आएंगे, तो हमारा समय बर्बाद न करें
बैठक में आत्मा, वाटरशेड, नपा भिंड, महिला बाल विकास समेत अन्य कई विभागों के प्रमुख अधिकारी नहीं आए थे। विधायक ने कहा कि शासन को व कलेक्टर को पत्र लिखें। इसमें लिखें कि अधिकारी नहीं आ रहे हैं, तो हमारा समय बर्बाद न करें।

काॅटनजीन की खराब सड़क को बनाने के भी दिए निर्देश
सचिव ने कहा- ट्रांसफर करा दो तो ठीक रहेगा
कृषि उपज मंडी की ओर से सचिव महेंद्र सिंह चौहान उपस्थित थे। नई कृषि उपज मंडी शिफ्ट करने समेत अन्य जानकारियां यह बैठक में मुहैया नहीं करा पाए। इस पर विधायक ने पूछा कि आपने भिंड में कब ज्वाइन किया है, तो सचिव ने कहा कि 12 दिन हुए हैं। इस पर विधायक ने पूछा कि क्या आप भिंड में रहना चाहते हो, सचिव बोले कि ट्रांसफर करा दो, तो ठीक रहेगा। इस पर विधायक ने अपने पीए को निर्देश दिए कि कृषि मंत्री को फोन लगाओ। हालांंकि बाद में सचिव से कहा कि आप नये हो, बेहतर काम करो।

पीएचई में नहीं हो रही लोगों की सुनवाई, असंतोष है
पीएचई के प्रति जनता में असंतोष है, लोगों की सुनवाई नहीं की जा रही। इसके अलावा शिक्षा विभाग की समीक्षा की। इसमें डीपीसी संजीव शर्मा ने बताया कि 2007-08 व 2012-13 की 52 बिल्डिंग अधूरी हैं। जबकि इनके भुगतान किए जा चुके थे। विधायक ने कहा कि छह माह के अंदर सभी बिल्डिंग का निर्माण पूरा कराओ। सुनवाई नहीं होने से लोगों में बहुत असंतोष है।

जनपद पंचायत में कर्मचारियों की बैठक लेते विधायक नरेन्द्र सिंह कुशवाहा।

खबरें और भी हैं...