पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • ऑनलाइन होगी रजिस्ट्री, स्लिप से होगी एंट्री

ऑनलाइन होगी रजिस्ट्री, स्लिप से होगी एंट्री

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
संपत्तिकी रजिस्ट्री कराने में अभी जहां लोगों को पंजीयक कार्यालय के चक्कर काटने पड़ रहे हैं, लेकिन अब 1 अप्रैल से ऐसा नहीं करना पड़ेगा। पंजीयन की नई व्यवस्था लागू की जा रही है, जिसके तहत सभी रजिस्ट्रियां ऑनलाइन ही की जाएंगी। इतना ही नहीं, नई व्यवस्था के तहत सिर्फ उनको ही ऑफिस में एंट्री मिलेगी, जिनके पास बुकिंग स्लिप होगी। नई व्यवस्था के तहत पंजीयक कार्यालय को पूरी तरह कंप्यूटरीकृत किया जा रहा है। कलेक्टोरेट में पुराने कार्यालय के बगल से ही नई बिल्डिंग बनाई गई है। इसमें अभी कंप्यूटर सिस्टम फिट करने में कर्मचारी जुटे हुए हैं। पूरा कामकाज काफी जोरों से इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि 1 अप्रैल से ई-रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था को चालू कर दिया जाएगा।

कलेक्टोरेट कार्यालय भिंड। (फाइल फोटो)

व्यवस्था चालू की जा रही है

^1 अप्रैल से ई-रजिस्ट्री व्यवस्था चालू की जा रही है। इसके लिए तैयारियां अंतिम चरण में हैं। नई व्यवस्था लागू होने के बाद बिचौलियों का काम खत्म हो जाएगा। जनता को इससे काफी सहूलियत मिलेगी। कुंअरसिंह भदौरिया, उप पंजीयक भिंड

अच्छी खबर

{ ई-रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था में दलालों को दी जाने वाली फीस बच जाएगी।

{ इसमें सर्विस प्रोवाइडर को एक हजार रुपए देने होंगे, इनकी फीस तय है।

{ जो व्यक्ति दूसरे जिले का है, वह ऑनलाइन भी गाइड लाइन के मुताबिक स्टाम्प खर्च की गणना कर सकता है।

{ऑनलाइन की गई बुकिंग स्लिप लेकर रजिस्ट्रेशन दफ्तर पहुंचें।

{ आपके दस्तावेज ठीक हैं या कमी है, इसकी जांच क्लर्क करेगा।

{अपनी बारी का इंतजार हॉल में लगी कुर्सियों पर बैठकर करें।

{ डिजिटल दस्तखत होंगे, बायोमैट्रिक मशीन पर थंब इम्प्रेशन भी देना होगा।