पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • निकाय चुनाव: हंगामे के बीच कार्यकर्ताओं ने महापौर और पार्षद पद की दावेदारी जताई

निकाय चुनाव: हंगामे के बीच कार्यकर्ताओं ने महापौर और पार्षद पद की दावेदारी जताई

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

लोहारमंडीसे अपनी दावेदारी जताने आए दो प्रत्याशियों के बीच किसी बात पर विवाद हो गया। इस दौरान कार्यकर्ताओं के बीच झूमाझटकी हुई। पदाधिकारियों ने किसी तरह मामला शांत कराया। मामला कोतवाली पहुंचा। यहां पदाधिकारियों के बीच समझौता हो गया। आवेदन जमा करने के दौरान कुछ कार्यकर्ता पर्यवेक्षकों के बीच बहस हो गई।

महापौर और पार्षद के बेहतर प्रत्याशी कौन है , जाने सभी की राय

आवेदन जमा करते समय पर्यवेक्षकों ने कार्यकर्ताओं से वार्ड की जरूरी जानकारियां जुटाई। कार्यकर्ताआें ने महिला-पुरुष मतदाता, मतदान केंद्र, वार्ड के लोगों की जानकारी ली। इस दौरान सभी की राय जानने के लिए एक फार्म भी भरवाया गया। इसमें महापौर प्रत्याशी के लिए सवार था महापौर पद के लिए अापकी नजर में सबसे अच्छे दो प्रत्याशी कौन है और क्यो। पार्षद के लिए सवाल था आपके बाद वार्ड में सबसे बेहतर पार्षद प्रत्याशी कौन है। सभी ने अपनी-अपनी राय रखी।

कई पार्षद प्रत्याशी पर्यवेक्षकों से उलझ गए।

कांग्रेस की स्थित खराब करना पड़ रहा संघर्ष-तोमर

बुरहानपुर|दोपहर 1बजे से गुजराती वाड़ी में कांग्रेस का कार्यकर्ता सम्मेलन हुआ। दिल्ली से आए पर्यवेक्षक भूपेंद्र तोमर ने कहा इस बार प्रत्याशी रिपिट नहीं होंगे। जो हारे हैं वह बुरा नहीं माने। नए साथियों को मौका दें। राहुल गांधी का विजन है युवाओं को मौका दें। चुनाव में पूरा दम लगा दें। दिखा दो कि हमारे अंदर कांग्रेस कूट-कूटकर भरी है। हमें बहुत मेहनत करना है। हमारी स्थिति बहुत खराब है। काम करवाने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। बहकावे में नहीं आए। हमें आपस में लड़वाने की कोशिश की जा रही है। खरगोन से आए पर्यवेक्षक तोताराम महाजन ने कहा हमें कामों के लिए भटकना नहीं पड़े। इसलिए जीत के लिए पूरी ताकत लगा दें। गुटबाजी को बढ़ावा नहीं दे। उसी को टिकट दिलवाएं जो जीत सकता है। 6 महीने पहले मोदी सरकार ने क्या कहा था, आज क्या स्थिति है। भाजपा अफवाहें फैलाकर जीती है।

भास्कर संवाददाता| बुरहानपुर

गुरुवारको शनवारा स्थित गुजराती मोढ़ वाड़ी में कांग्रेस कमेटी का कार्यकर्ता सम्मेलन हुआ। सम्मेलन में ढोल-तासों के साथ पहुंचे कार्यकर्ताओं ने शक्ति प्रदर्शन किया। परिसर में कार्यकर्ताआें ने जमकर नारेबाजी भी की। हंगामे के बीच कार्यकर्ताओं ने महापौर और पार्षद पद के लिए दावेदारी जताई। महापौर के सात, अध्यक्ष के 3 पार्षद