• Hindi News
  • National
  • नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को 10 साल जेल

नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को 10 साल जेल

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

नाबालिग को शादी का झांसा देकर अपहरण कर दुष्कर्म के आरोपी को 10 साल की जेल और 15 हजार रुपए का जुर्माना से दंडित किया है। मामले में 16 गवाहों और मेडिकल रिपोर्ट के द्वारा प्रमाणित होने पर यह फैसला सोमवार को अपर सत्र न्यायाधीश गालिब रसूल ने सुनाया।

शासन की ओर से मामले की पैरवी कर रहे अतिरिक्त लोक अभियोजक शांताराम वानखेड़े ने बताया कि 10 मई 2015 को आरोपी राजेश उर्फ काल्या पिता उमरासिंह (23) ग्राम मझगांव देड़तलाई की नाबालिग लकड़ी को झांसे में लिया और शादी का लालच देकर अगवा कर दो सप्ताह तक अपने साथ रखकर उसके साथ दुष्कर्म किया। घटना के बाद परिजन की शिकायत पर नेपानगर थाना पुलिस ने अपहरण, दुष्कर्म और पास्को एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया था। पुलिस ने जांच-पड़ताल के दौरान आरोपी को 24 मई 2015 को देड़तलाई से गिरफ्तार किया था।

अलग-अलग धारा में सुनाया फैसला

आरोपी को धारा 366 भादवी में तीन साल जेल एवं पांच हजार रुपए जुर्माना एवं धारा 376 भादवी एवं पास्को एक्ट में दस साल जेल और दस हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। दोनों सजाएं साथ-साथ चलेगी। इसके साथ ही पीडिता को दस हजार रुपए प्रतिकर दिए जाने के भी आदेश कोर्ट द्वारा दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...