पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • युवक की मौत के मामले की जांच होगी

युवक की मौत के मामले की जांच होगी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बम्हौरी गांव में जुआ के फड़ में छापे के दौरान एक युवक की मौत का मामला, गृहमंत्री ने 7 दिनों में रिपोर्ट मांगी

भास्करसंवाददाता| छतरपुर

जिलेके बकस्वाहा थाना क्षेत्र के ग्राम बम्हौरी में एक युवक की जुआ के फड़ में छापे के दौरान एक युवक की मौत के मामले की अब जांच होगी। इस मामले में जांच के लिए गृह मंत्री ने आदेश दिए हैं। वहीं 24 अक्टूबर की इस घटना के बाद से अब तक पुलिस एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

बम्हौरी गांव के सुरेशचंद्र सेन पिता कन्हैयालाल सेन ने गृहमंत्री बाबूलाल गौर को एक शिकायत दी है। इस शिकायत में उसने पुलिस चौकी में पदस्थ आरक्षक अकरम खान पर हत्या का आरोप लगाया है। सुरेश ने बताया कि 24 अक्टूबर की रात को दीपावली के अवसर पर लोग तास खेल रहे थे, तभी अकरम खान कुछ पुलिसकर्मियों को लेकर मौके पर पहुंचा और तास खेल रहे लोगों को पीटना शुरू किया। इससे बचने के लिए देवेंद्र उर्फ सुक्की सेन मौके से भागा। आरक्षक अकरम ने पीछा करते हुए डंडा फेंककर मारा और इससे सुक्की के सिर में चोट गई और वह बेहोश हो गया। इस पर पुलिसकर्मियों ने सुक्की को कुएं में धकेल दिया।

सुरेश को यह बात सुक्की के साथ तास खेल रहे लोगों ने बताई, लेकिन पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। उल्टे अब पुलिस मामले के गवाह बनने वाले लोगों पर मुकद्मा दर्ज करके उन पर कार्रवाई से दूर रहने का दबाव बना रही है। इस मामले की शिकायत के बाद गृहमंत्री श्री गौर ने पुलिस अधीक्षक छतरपुर को पत्र भेजकर मामले की जांच पूरी करते हुए 7 दिनों में प्रतिवेदन मांगा है।

अभीतक एक भी आरोपी नहीं पकड़ा

बम्हौरीगांव में युवक की मौत के बाद लोगों ने चौकी का घेराव करते हुए चौकी प्रभारी से मारपीट की थी। इसके बाद पथराव भी किया गया था। इस मामले में पुलिस ने दो दर्जन से अधिक लोगों पर एफआईआर दर्ज की थी, लेकिन अब तक पुलिस ने एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है। थाना प्रभारी आरके शुक्ला कहते हैं कि आरोपियों की तलाश की जा रही है। अब तक कोई आरोपी पुलिस को मिल ही नहीं रहा है।