• Hindi News
  • National
  • नकली मार्का ब्रेड बेचने पर किराना व्यापारी पर 10 हजार का जुर्माना

नकली मार्का ब्रेड बेचने पर किराना व्यापारी पर 10 हजार का जुर्माना

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अपर जिला मजिस्ट्रेट न्याय निर्णयन अधिकारी ने सुनाया फैसला

भास्कर संवाददाता| दमोह

खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के अंतर्गत वीके देसाई अपर जिला मजिस्ट्रेट एवं न्याय निर्णयन अधिकारी ने अपने निर्णय में एक किराना व्यापानी एवं एक रेस्टोरेंट संचालक को 10 हजार रूपए के जुर्माने से दंडित करने का फैसला सुनाया है। फैसले में मिथ्याछाप हाई राइस कैल्सियस ब्रेड का विक्रय करने के जुर्म में आरोपी खाद्य विक्रेता सुनील पिता स्व. आयलदास नोतानी प्रतिष्ठान राजकुमार स्टोर्स घंटाघर को खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 की धारा 26(2)(पप) सहपठित धारा 52 के अंतर्गत मिथ्याछाप ब्रेड का विक्रय करने का दोषी पाते हुए 10 रूपए के जुर्माने से दंडित करने का आदेश पारित किया है।

प्रकरण के अनुसार 3 अप्रेल को खाद्य सुरक्षा अधिकारी राकेश कुमार अहिरवार ने खाद्य पदार्थों का निरीक्षण करने के दौरान सुनील नोतानी किराना सामग्री विक्रेता से विक्रय के लिए संग्रहित कैल्सियम ब्रेड का नमूना जांच के लिए लिया था। नमूने को जांच के लिए राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भोपाल भेजा गया था। जांच रिपोर्ट में ब्रेड का नमूना मिथ्याछाप पाया गया था। जिसके अनुसार ब्रेड में शक्कर की मात्रा का उल्लेख ब्रेड के पैकेट के लेबिल पर अंकित नहीं पाई गई थी। प्रकरण अपर जिला मजिस्ट्रेट एवं न्याय निर्णयन अधिकारी के न्यायालय में प्रस्तुत किया गया था। प्रकरण में आरोपी सुनील नोतानी को मिथ्याछाप ब्रेड का विक्रय करने का दोषी पाते हुए 10 हजार रूपए के जुर्माने से दंडित करने का आदेश पारित किया गया है।

इसी प्रकार अवमानक खोवा बर्फी का विक्रय करने के जुर्म में आरोपी खाद्य विक्रेता भीकम पिता बालचंद यादव प्रतिष्ठान श्रीराम रेस्टोरेंट कलेक्टोरेट के सामने जबलपुर नाका को खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 की धारा 26(2)(पप) सहपठित धारा 51 के अंतर्गत अवमानक खोवा बर्फी का विक्रय करने का दोषी पाते हुए 10 रूपए के जुर्माना से दण्डित करने का आदेश पारित किया गया है। प्रकरण के अनुसार 9 मार्च को खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने खोवा बर्फी का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा था। जांच रिपोर्ट में खोवा बर्फी का नमूना अवमानक पाया गया था। खोवा बर्फी में मिल्क वसा की जगह अन्य कोई वसा की मात्रा पाई गई थी।

प्रकरण अपर जिला मजिस्ट्रेट एवं न्याय निर्णयन अधिकारी के समक्ष पेश किया गया जहां आरोपी भीकम यादव को दोषी पाते हुए 10 हजार रूपए के जुर्माने से दंडित करने का आदेश पारित किया गया है।

खबरें और भी हैं...