पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • मप्र और उप्र की पुलिस टीम ने लापता लोगों को खोजने के लिए चंबल में चलाया अभियान

मप्र और उप्र की पुलिस टीम ने लापता लोगों को खोजने के लिए चंबल में चलाया अभियान

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उधर,उप्र के खेरा राठौर थाना पुलिस ने बुधवार को चंबल में नाव डूबने के मामले में नाव का संचालन कर रहे सात आरोपियों माधवकुमार, छविराम केवट, मथुरी, प्रमोद, रामखिलाड़ी, रिंकू सभी निवासी भूप का पुरा थाना नगरा के खिलाफ धारा 304 का अपराध पंजीबद्ध किया है।







पुलिस ने तहरीर में लिखा है कि मुरैना जिले के नगरा थाना क्षेत्र के साहसपुरा घाट से खेरा राठौर घाट के बीच चंबल में नाव का अवैध संचालन किया जा रहा था। इसके चलते बुधवार को नाव पलट गई जिसमें आठ लोगों की मौत होने की खबर है। रिपोर्ट में लिखा है कि नाव में 40 लोगों को बैठाने की क्षमता थी लेकिन उसमें 100 से ज्यादा लोग चंबल पार कराए जा रहे थे। चंबल पार करने वालों में 48 महिलाएं भी शामिल थीं।

मुरैना/पोरसा | साहसपुराघाट पर उप्र उप्र की पुलिस ने गुरुवार को चंबल नदी में दिनभर जाल डाले, मोटर बोट भी चलाई, लेकिन शाम तक कोई सफलता नहीं मिली। बुधवार को हुई नाव डूबने की घटना में पांच लोग लापता हैं, जबकि एक व्यक्ति का शव बुधवार को मिल चुका था। हादसे के दूसरे दिन मृतकों के कुछ परिजन साहसपुरा घाट पर पहुंचे और उन्होंने नाव पलटने से नदी में डूबने वाले लापता में तीन नाम और जुड़वाए। इस प्रकार लापता लोगों की संख्या बढ़कर आठ हो गई है।







गुरुवार को आईजी चंबल रूपसिंह मीना घटनास्थल पर पहुंचे और उन्होंने हादसे की जानकारी ली।

चंबल में डूबे लोगों को निकालने के लिए गुरुवार को देवरी घड़ियाल केन्द्र की दो और आगरा की दो मोटरबोट साहसपुरा घाट पर पहुंची। तीन नाव भी चलाई गईं।