पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • मनुष्य को हमेशा अच्छे कर्म करना चाहिए संत यज्ञमणि

मनुष्य को हमेशा अच्छे कर्म करना चाहिए- संत यज्ञमणि

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मनासा | जो जैसा कर्म करता है वैसा फल मिलता है। मनुष्य को हमेशा अच्छे कर्म करना चाहिए। बुरे कर्म से हमेशा कष्ट भोगना पड़ते है। यह बात खेडी में संत यज्ञमणि महाराज ने भागवत कथा में कही। उन्होंने कहा अभिमान व्यक्ति को दु:ख एवं तकलीफ देता हैं। संतश्री ने कहा भगवान कण-कण में विराजमान है मनुष्य को भगवान पहचानने की शक्ति होना चाहिए। इसके लिए मनुष्य की आस्था एवं सोच सही होना चाहिए

महिला को लालसा नहीं करना चाहिए- संत नागदा

मोया में संत बाबूलाल नागदा ने रामकथा में कहा महिला किसी भी वस्तु पर आकर्षित होकर उसे प्राप्त करने की लालसा नहीं रखना चाहिए। लालसा से समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सीता माता द्वारा हिरण की सुंदरता पर मोहित होकर भगवान राम से हिरण को लाने की लालसा की एवं रावण द्वारा सीता माता का हरण करने पर परिवार के सभी सदस्यों को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ा था।

‘भक्तों के संकट देख अवतार लेते हैं भगवान’

गरोठ |
भक्तों के संकट देख भगवान अवतार लेते हैं। पृथ्वी पर जब कभी भी पाप या अत्याचार बढ़ा है तो भगवान ने किसी ना किसी रूप में अवतार लिया है। यह विचार पं. मुकेश शर्मा नारायणी ने साठखेड़ा में भागवत कथा वाचन करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा हर बुराई का अंत हाेता है। श्रीकृष्ण जन्माेत्सव मनाया। आरती शिक्षक रमेश गौड़, बापूलाल हाड़ा ने की। बड़ी संख्या में ग्रामीण कथा श्रवण करने पहुंचे।

खबरें और भी हैं...