--Advertisement--

मां महिषासुर मर्दिनी मंदिर का बनाएंगे मास्टर प्लान

भास्कर संवाददाता | गरोठ/शामगढ़ नगर के अतिप्राचीन महिषासुर मर्दिनी मंदिर विकास को लेकर मां सेवा धार्मिक युवक...

Dainik Bhaskar

Jan 07, 2018, 10:10 AM IST
भास्कर संवाददाता | गरोठ/शामगढ़

नगर के अतिप्राचीन महिषासुर मर्दिनी मंदिर विकास को लेकर मां सेवा धार्मिक युवक मंडल रजिस्टर्ड की मांगों को प्रशासन ने मान लिया है। शनिवार को एसडीएम आरपी वर्मा धरनास्थल पहुंचे और समिति सदस्यों को चार बिंदुओं पर लिखित में आश्वासन दिया। इसके बाद सदस्यों और आमजन ने पटाखे चलाकर जश्न मनाया और धरनास्थल से जुलूस के रूप में मंदिर पहुंचे। नगर में होलकर कालीन अतिप्राचीन चमत्कारी मां महिषासुर मर्दिनी मंदिर के विकास को लेकर इस बार युवाओं के साथ आमजन ने लंबी लड़ाई का मन बनाया और प्रशासन को समय देने के बाद भी जब विकास कार्य को लेकर कुछ नहीं हुआ तब मां सेवा धार्मिक युवक मंडल के बैनर तले 2 जनवरी से समिति सदस्य अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। आंदोलन ने जनआंदोलन का रूप लेते हुए भाजपा-कांग्रेस, करणी सेना सहित विभिन्न संगठन के साथ व्यापारी और आमजन भी जुड़ गए। चार दिन से प्रशासन आंदोलन खत्म कराने के प्रयास में लगा था। शुक्रवार को प्रशासन ने समिति सदस्याें तक उनकी मांगें मानने और कार्रवाई शीघ्र प्रारंभ करने का आश्वासन दिया। प्रशासन मास्टर प्लान बनाने सहित अन्य मांगों को लेकर गंभीर नजर आया। किंतु समिति सदस्य व आमजन कलेक्टर की उपस्थिति और लिखित में देने पर अड़े थे। शनिवार दिन में एसडीएम आरपी वर्मा धरनास्थल मंदिर चौराहा पहुंचे और करीब 1 घंटा तक समिति सदस्यों सहित गणमान्यजन से चर्चा की। एसडीएम ने मांग पर चार बिंदुओं पर लिखित में आश्वासन दिया। तब समिति सदस्यों ने यह कहते हुए धरना आंदोलन वापस लिया कि यदि जल्द लिखित आश्वासन पर कार्रवाई शुरू नहीं हुई तो आंदोलन फिर से शुरू होगा और तभी खत्म होगा जब कागजों में नहीं धरातल पर कार्रवाई शुरू होगी।

एसडीएम ने यह दिया लिखित में -
लिखित में आश्वासन देने के बाद जुलूस निकालते समिति सदस्य व आमजन।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..