--Advertisement--

हिंदी सबसे प्राचीन व सरल भाषा है: पाठक

विश्व हिंदी दिवस पर सांस्कृतिक भारत मंच द्वारा कार्यक्रम आयोजित भास्कर संवाददाता| हटा विश्व हिंदी दिवस पर...

Dainik Bhaskar

Jan 11, 2018, 04:55 AM IST
विश्व हिंदी दिवस पर सांस्कृतिक भारत मंच द्वारा कार्यक्रम आयोजित

भास्कर संवाददाता| हटा

विश्व हिंदी दिवस पर हटा में सांस्कृतिक भारत मंच द्वारा उत्कृष्ट विद्यालय व एमएलबी स्कूल में कार्यक्रम आयोजित किए गए। सबसे पहले उत्कृष्ट विद्यालय में मुख्य अतिथि प्राचार्य आरके पाठक, पीएन खेमरिया और संयोजक सौरभ नेमा ने कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती पूजन किया। इसके बाद हिंदी के महत्व को बताया गया।

प्राचार्य श्री पाठक ने कहा कि हिंदी हमारी मातृभाषा है साथ ही बोलचाल में यह सबसे सरल भाषा है। हमें अपनी मातृभाषा पर गर्व होना चाहिए क्योंकि यह भाषा दुनिया की सबसे प्राचीन भाषा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में अंग्रेजी का चलन काफी बढ़ गया है। बोलचाल की भाषा में ज्यादातर अंग्रेजी शब्दों का प्रयोग किया जा रहा है जो हमारी संस्कृति के लिए ठीक नहीं हैं। हमें अपनी संस्कृति को बचाए रखना है तो अधिक से अधिक अपनी मातृभाषा ही बोलना चाहिए। वर्तमान में हिंदी दिवस मनाने का उद्देश्य हिंदी को बढ़ावा देना है। इसके बाद मंच संयोजक सौरभ नेमा ने हिंदी भाषा का महत्व और नई पीढ़ी में हिंदी भाषा के संस्कार की बात बताई। कार्यक्रम का संचालन र|ेश खटीक ने किया। इसके बाद एमएलबी स्कूल में कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें छात्राओं ने हिंदी कविता का काव्यपाठ किया। जिसमे अंजना सेन, उर्मिला काछी, दीपा साहू, नीता काछी, चांदनी लोधी ने काव्यपाठ किया। कार्यक्रम के अंत मे मंच संयोजक सौरभ नेमा द्वारा दोनों स्कूल के प्रतिभागियों को पुरस्कारों से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर दोनों विद्यालयों के प्राचार्य आरके पाठक एवं केसी गौतम को मंच और से हिंदी भाषा प्रचार प्रसार के लिए स्मृति चिन्हों से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर र|ेश खटीक, कृष्णकांत लखेरा, नवनीत पांडेय सहित समस्त बालिकाएं मौजूद थीं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..