पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • रात 3 बजे कोठी बाजार में पहुंचीं झांिकयां

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रात 3 बजे कोठी बाजार में पहुंचीं झांिकयां

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डोल ग्यारस पर सोमवार रात नगर में झिलमिलाती झांकियों का कारवां निकला। 10 से अधिक झांकियां निकली। इनमें माधव मंदिर में मीराबाई एकली खड़ी, हनुमानजी सीना चीर कर राम-सीता की छवि दिखाते हुए, भगवान गणेश को हाथी का सिर लगाते हुए महेश, हनुमानजी को अपनी शक्ति याद दिलाते वानर, जटायु-रावण का युद्ध, भगवान कृष्ण को कारावास से नंदजी घर ले जाते हुए, गोवर्धन पर्वत उठाते हुए श्रीकृष्ण, गांधारी-दुर्योधन को वज्र शक्ति देती हुई का दृश्य देखने लोग उमड़े। अखाड़ों के कलाकारों ने करतब दिखाए।

रात 9 बजे विभिन्न मंदिरों में आरती हुई। फिर मंदिरों से झांकियां निकली। रात 3 बजे कोठीबाजार के पास पहुंचीं। यहां से पंक्तिबद्ध होकर झांकियों का कारवां आगे बढ़ा। निहारने के लिए नगर सहित ग्रामीण क्षेत्र से बड़ी तादाद में लोग पहुंचे। सबसे आगे बड़ा मंदिर और उसके पीछे बड़ामीपुरा के श्रीराम मंदिर की झांकी निकली। फिर परंपरा अनुसार एक के पीछे एक झांकियां निकली। भ्रमण के बाद मंगलवार तड़के घंटाघर चौराहे पहुंची। यहां से अपने-अपने मंदिर के लिए रवाना हुई।

बड़ावदा में 12 झांकियां निकलीं, भूतों की बरात का दृश्य देखने उमड़े लोग

बड़ावदा |
नगर में सोमवार रात 12 झांकियां निकली। सबसे आगे भूतों की बरात का दृश्य देखने लोग उमड़े। झंड़ाचौक में लक्ष्मीकांत व्यायामशाला के उस्तादों व पहलवानों ने हैरतंगेज करतब दिखाए।

रियावन में पांच झांकियां निकली

रियावन |
गांव में पांच झांकियां निकली। विष्णु शेषशायी मंदिर, रामजानकी मंदिर की झांकी प्रमुख थी। परमार समाज मंदिर, राम जानकी बड़ा मंदिर, नई आबादी स्थित नागराज मंदिर की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। पुजारी भेरूलाल शर्मा, नंदू दास बैरागी, टीकमदास, गोपालदास बैरागी ने आरती की।

बरखेड़ाकलां में निकले झूले

आलोट |
ग्राम बरखेड़ाकलां में ढोल-ढमाकों के साथ श्रीराम मंदिर, लक्ष्मीनारायण मंदिर, राधाकृष्ण मंदिर से झूले निकले। जिन्हें देखने के लिए भीड़ उमड़ी। देररात भ्रमण के बाद आरती के साथ झूलों का समापन हुआ।

कसारी में निकला झांकियों का कारवां

महिदपुर रोड |
ग्राम कसारी में झांकियों का कारवां निकला। हरिमंदिर की झांकी में हनुमानजी समुद्र में सेतु बनाने के लिए पत्थर पर राम नाम लिख रहे थे, श्रीराम मित्र मंडल की झांकी में भोलेनाथ के साथ भूतों की बारात का दृश्य दर्शाया गया था।

श्रीचारभुजानाथ बड़ा सरकारी मंदिर गवली मोहल्ला :- गांधारी अपने पुत्र दुर्योधन को वज्र शक्ति देती हुई।

श्रीराम मंदिर बड़ामालीपुरा :- श्रीकृष्ण गोवर्धन पर्वत उठाते व इंद्र वर्षा करते हुए का दृश्य देखने लोग उमड़े। श्रीमहावीर व्यायामशाला के अखाड़ा कलाकारों ने करतब से सबका ध्यान खींचा।

श्रीराम जानकीनाथ मंदिर छोटामालीपुरा :- भगवान श्रीकृष्ण काे कारावास से मथुरा ले जाते हुए का दृश्य रहा।

श्रीसत्यनारायण मंदिर राठौर समाज लालागली:- रावण-जटायु के युद्ध का दृश्य।

श्रीसत्यनारायण मंदिर जूना गुजराती दर्जी समाज लालागली:- भगवान हनुमानजी को उनकी शक्तियां याद दिलाते हुए का दृश्य।

श्रीचारभुजा नाथ मंदिर धाकड़ समाज नाईगली :- भगवान शिव द्वारा गणेश को हाथी का मस्तक लगाते हुए का दृश्य।

श्रीनृसिंह मंदिर धाकड़ समाज नरसिंहपुरा :-माधव मंदिर में मीरा बाई एकली खड़ी का दृश्य।

श्रीराधा-कृष्ण मंदिर मीणा समाज मीनापुरा :- शिव की बारात का दृश्य, इसमें भूतगण नाचते हुए।

श्री आनंदी हनुमान मंदिर व अन्य मंदिरों से भी छोटी-छोटी झांकियां निकाली गई।

ताल में 16 मंदिरों से निकलीं झांकियां, अखाड़ों के शरीर साधकों ने हैरतअंगेज करतब दिखाए
बड़ावदा में भूतों की बरात देखने के लिए उमड़े लोग। पहलवानों ने िदखाए करतब।

श्रीराम जानकी मंदिर की झांकी में हनुमानजी सीना चीर कर राम-सीता की छवि दिखाते हुए। फोटो | दिलीप धनोतिया

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें