पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • मॉडल स्कूल में शिक्षकों की कमी को लेकर युवक कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

मॉडल स्कूल में शिक्षकों की कमी को लेकर युवक कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
छह साल से अतिथि शिक्षकों के भरोसे संचालित माॅडल स्कूल में इस साल अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हुई है। जिससे बच्चे पढ़ने की जगह मोबाइल में मशगूल रहते हैं। इसके लेकर शुक्रवार को युकां लोकसभा महासचिव नारायण मंडावलिया ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मॉडल स्कूल के बाहर प्रदर्शन किया। मॉडल स्कूल के बाहर प्रदर्शन की खबर लगते ही एसडीएम गोपालसिंह वर्मा मौके पर पहुंचे और वस्तुस्थिति जानी। एसडीएम वर्मा ने प्रदर्शनकारी व विद्यार्थियों से चर्चा की। जिसमें पता चला कि 225 विद्यार्थियों पर केवल दो शिक्षक पदस्थ हैं। जिसमें शिक्षक घनश्याम नागर पर विभागीय कार्य के साथ साथ पढ़ाई की भी जिम्मेदारी है, लेकिन शुक्रवार को वे भी छुट्टी पर थे। शिक्षकों की कमी का तत्काल हल निकालकर सोमवार से मॉडल स्कूल में पढ़ाई की व्यवस्था के लिए पांच शिक्षकों की व्यवस्था कराने का आश्वासन एसडीएम ने दिया, तब जाकर प्रदर्शन खत्म हुआ। इस मौके पर प्रकाश डाबी, शाहरूख खान, तनिष्क छाजेड़, दिलीप धाकड़, वैभव चौहान, नारायण पाटीदार, सुनील वाक्तरिया, केतन गोहर, गौरव बुड़ावनवाला, जितेंद्र पोपंडिया, दिनेश धाकड़ आदि मौजूद थे।

एसडीएम ने कराई पढ़ाई

शुक्रवार को मॉडल स्कूल में शिक्षकों की कमी को लेकर किए प्रदर्शन के दौरान पहुंचे एसडीएम वर्मा ने जब विद्यार्थियों से भरी कक्षा देखी तो वह भावुक हो गए और उन्होंने बच्चों को पढ़ाना शुरू कर दिया। एसडीएम वर्मा ने करीब 15 मिनट तक पढ़ाई कराई और बच्चों से सवाल जवाब भी किए।

शिक्षिका बैठी रही स्टॉफ रूम में
युवक कांग्रेस के प्रदर्शन से लेकर एसडीएम गोपालसिंह वर्मा के मॉडल स्कूल आने तक शिक्षिका अंजना कुशवाह किसी भी कक्षा में पढ़ाई कराने की बजाए स्टाफ रूप में अपने बच्चे के साथ बैठी रही। जैसे ही एसडीएम वर्मा स्कूल पहुंचे तो शिक्षिका स्टाफ रूम में अपने बच्चे के साथ खाना खा रही थी, जिसे देखकर एसडीएम बिना कुछ कहे बच्चों से चर्चा करने कक्षाओं की तरफ चले गए। हालांकि एसडीएम को देखकर शिक्षिका आनन-फानन कक्षा में पहुंच गई। जहां एसडीएम ने कुछ देर बच्चों को पढ़ाई कराई।

संकुल प्राचार्य को शिक्षकों की व्यवस्था के लिए कहा है
मॉडल स्कूल में शिक्षकों की कमी को लेकर प्रदर्शन हो रहा था। तात्कालिक व्यवस्था के लिए संकुल प्राचार्य को शिक्षकों की व्यवस्था के लिए निर्देशित किया है। कक्षा की बजाए स्टाफ रूम में बैठी शिक्षिका को भी समझाइश दी है। गोपालसिंह वर्मा, एसडीएम, खाचरौद

एसडीएम के आने पर भी स्टॉफ रूम में बैठी शिक्षिका।

मॉडल स्कूल में पढ़ाई कराते एसडीएम गोपालसिंह वर्मा।

खबरें और भी हैं...