• Hindi News
  • National
  • संविदा भर्ती नहीं, अतिथि शिक्षक को करें नियमित

संविदा भर्ती नहीं, अतिथि शिक्षक को करें नियमित

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मप्र अतिथि शिक्षक संघ के आह्वान पर नियमितीकरण की मांग को लेकर अतिथि शिक्षक पिछले एक सप्ताह से हड़ताल पर हैं। अतिथि शिक्षकों की हड़ताल से कई स्कूलों में कक्षाएं खाली पड़ी हुई है। सोमवार को अतिथि शिक्षकों ने अपनी प्रमुख नियमितिकरण की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार विवेक सोनकर को ज्ञापन सौंपा।

अतिथियों ने कहा कि कई वर्षों से सेवाएं देने के बावजूद उन्हें नियमित करने की वजाएं मुख्यमंत्री द्वारा संविधा भर्ती को स्वीकृति दे दी है। जोकि न्यायउचित नहीं है।

ज्ञापन में बताया कि प्रदेश में हजारों अतिथि शिक्षक कई वर्षों से शिक्षा विभाग में सेवाएं दे रहे हैं। वर्तमान में प्रदेश में एेसे हजारों अतिथि शिक्षकों की उम्र अधिक हो जाने से वह अब किसी भी सरकारी नाैकरी के लिए पात्र नहीं रहे हैं। ज्ञापन के माध्यम से शिक्षा विभाग में सेवा और समर्पण को देखते बिना किसी परिक्षा के अतिथि शिक्षकों को नियमित करने की मांग की गई हैं। इस मौके पर ऋतुराजसिंह सोनगरा, विजयसिंह सोलंकी, साक्षी दवे, मनीषा जैन, कृष्णकांत शर्मा, कुशध्वज सिंह, आनंदसिंह सोनगरा, संतोष भंवराषा, जगदीश कौशल, आनंद दोहरा, हरिराम, राजेंद्र त्रिवेदी आदि मौजूद थे।

नियमितीकरण की मांग को लेकर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपते अतिथि शिक्षक।

खबरें और भी हैं...