• Hindi News
  • विभाग की रीति नीति बदलने के लिए शिक्षकों ने लिखा प्रमुख सचिव को पत्र

विभाग की रीति-नीति बदलने के लिए शिक्षकों ने लिखा प्रमुख सचिव को पत्र

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बोर्ड पैटर्न पर कराई जाएगी 5वीं और 8वीं की परीक्षाएं
केंद्राध्यक्ष व सहायक के ब्लॉक बदलने के लिए जताया विरोध

भास्कर संवाददाता | खाचरौद

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा 10वीं व 12वीं बोर्ड परीक्षा में नियुक्त केंद्राध्यक्षों व सहायक केंद्राध्यक्षों के ब्लाॅक बदलने की रीति-नीति पर शिक्षकों ने विरोध जताया है। इसे लेकर शिक्षक कांग्रेस प्रदेश महासचिव स्वरूपनारायण चतुर्वेदी, संभागीय अध्यक्ष ब्रजेश व्यास, जिलाध्यक्ष अनिल नामदेव, जिला कोषाध्यक्ष बी.एल. राजपुरोहित ने इस रीति-नीति पर रोक लगाने के लिए संयुक्त हस्ताक्षर का एक पत्र माध्यमिक शिक्षा मंडल प्रमुख सचिव को भेजा था। इसमें प्रदेशभर के केंद्राध्यक्षों के ब्लाॅक बदलने के कारण उन्हें आने वाली परेशानी के संबंध भी अवगत कराते कर केंद्राध्यक्षों की नियुक्ति विकासखंड के तहत करने की बात कही गई। पत्र में बताया कि दूसरे विकासखंड में नियुक्ति होने से केंद्राध्यक्ष मानसिक तनाव के साथ अलसुबह घर से निकलकर अपने-अपने परीक्षा केंद्र पर समय से पहले पहुंचने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे। जो दुर्घटना का कारण बन सकता है। इसमें सबसे अधिक परेशानी महिला केंद्राध्यक्ष और सहायक केंद्राध्यक्षों को उठाना पड़ेगी। इस संबंध में 5 फरवरी को भी उक्त पदाधिकारियों द्वारा एक पत्र प्रेषित किया जा चुका था।

ड्यूटी के चक्कर में जा चुकी है प्राचार्य की जान- गत वर्ष शासकीय हाईस्कूल बेड़ावन के प्राचार्य शिवनारायण अटोलिया को बोर्ड परीक्षा के लिए उज्जैन के शा. कन्या उमावि विजयाराजे खंड-1 का केंद्राध्यक्ष बनाया था। परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के लिए अटोलिया 5 मार्च 2015 को सुबह 6.45 बजे बाइक से जा रहे थे। इसी दौरान गोयला बुजुर्ग और ढाबला फंटा के बीच अज्ञात वाहन की टक्कर से अटोलिया की मौत हो गई थी।

पहले भी किया जा चुका है आगाह- मप्र शिक्षक कांग्रेस द्वारा गत वर्ष भी प्राचार्य शिवनारायण अटोलिया की दुर्घटना में हुई मौत के पहले ही बोर्ड परीक्षा में नियुक्त केंद्राध्यक्षों व सहायक केंद्राध्यक्षों के ब्लाॅक बदलने की रीति-नीति पर रोक लगाने के लिए प्रदेश महासचिव स्वरूपनारायण चतुर्वेदी ने स्कूल शिक्षा मंत्री को एक पत्र भेजा था। इसमें प्रदेश भर के केंद्राध्यक्षों के ब्लाॅक बदलने से होने वाली परेशानी के संबंध भी अवगत कराया था, पर किसी ने भी इस संबंध में ध्यान देना भी उचित नहीं समझा था।

यह रहेगा परीक्षा का टाइम
राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा जारी टाइम टेबल के अनुसार कक्षा पहली से चौथी और छठी-सातवीं की परीक्षाएं 4 अप्रैल से प्रारंभ होंगी, जो 11 अप्रैल तक चलेंगी। पहली से चौथी तक की परीक्षाएं सुबह 11.30 से 2 बजे तक और छठी-सातवीं तक की परीक्षाएं सुबह 11.30 से 2.30 बजे तक रखी गई है। जबकि पांचवीं और आठवीं की परीक्षाएं 26 मार्च से प्रारंभ होगी, जो 4 अप्रैल तक चलेंगी। पांचवीं की परीक्षा सुबह 8 से 10.30 बजे तक और 8वीं की परीक्षा सुबह 8 से 11 बजे तक होगी। सभी कक्षाओं का परीक्षा परिणाम 30 अप्रैल तक घोषित किया जाना है।

दो साल से नहीं मिला भत्ता
जानकारी के अनुसार वर्ष 2014 तथा 2015 के दौरान हुई बोर्ड परीक्षाओं के दौरान बनाए गए केंद्राध्यक्षाें और सहायक केंद्राध्यक्षों को अभी तक यात्रा और भोजन भत्ता नहीं मिल पाया है। इससे भी बोर्ड परीक्षा में नियुक्ति होने वाले केंद्राध्यक्ष और सहायक केंद्राध्यक्ष में विभाग के प्रति आक्रोश व्याप्त हो रहा है।