पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • मन ही मनुष्य को पाप कर्म की ओर प्रवृत्त करता है इसलिए अपने मन पर नियंत्रण रखें

मन ही मनुष्य को पाप कर्म की ओर प्रवृत्त करता है इसलिए अपने मन पर नियंत्रण रखें

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नागदा | गोवर्धननाथ सेवा समिति द्वारा कृष्णा जीनिंग परिसर में चल रही भागवत कथा में सोमवार को पं. नारायण प्रसाद ओझा ने कहा मनुष्य को अपने मन पर नियंत्रण रखना चाहिए। मन ही पापकर्म की ओर प्रवृत्त करता है। अतिथि जगदीश मेहता, कृष्णाबाई मेहता, यशवंत प्रजापत, जेठालाल, राजू राव, जगदीश पिपलौदा, प्रेमकुमार कसेरा, घनश्याम दवे, मनीष सेठिया, बंशी प्रजापत, वीरेंद्र गुर्जर, राजू रघुवंशी, झम्मक राठी, शंकरलाल नामदेव, बाबूलाल ओरा, बृज टांक, गोर्वधनसिंह भारद्वाज, सुरेश रघुवंशी, रमेशचंद्र सोनी, लाला अरोड़ा, सत्यनारायण माहेश्वरी, रामचंद्र त्रिवेदी रहे। राधेश्याम पांचाल, नरेंद्र कोठारी, रामजीलाल कर्णावत, सुरेश उपाध्याय, सुभाष पहलवान, जितेंद्र वत्स आदि मौजूद थे। जानकारी चेतन नामदेव ने दी।

खबरें और भी हैं...