• Hindi News
  • National
  • बागेड़ी में बाढ़ से भरा चंबल का डेम नंबर 2, तीन मशीनें फिर चालू करेगा ग्रेसिम, उद्योग बंद नहीं होगा

बागेड़ी में बाढ़ से भरा चंबल का डेम नंबर-2, तीन मशीनें फिर चालू करेगा ग्रेसिम, उद्योग बंद नहीं होगा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लगातार दूसरे साल भी बागेड़ी नदी में आई बाढ़ से चंबल के खाली डेम भरा गए। डेम क्रमांक 2 भर गया है। इससे रिसकर पानी डेम क्रमांक 1 में पहुंचना भी शुरू हो गया है। चंबल के कैचमेंट एरिया में बारिश से सूखा पड़ा अमलावदाबीका डेम ओवरफ्लो नहीं हुआ है, लेकिन डेम के छेदों से रिसकर पानी पिपलोदा डेम की ओर बढ़ने लगा है।

ग्रेसिम प्रबंधन के अनुसार गुरुवार सुबह 8 बजे से शुक्रवार शाम 4 बजे तक 5 इंच बारिश दर्ज हो चुकी है। बीते साल भी 14 जुलाई को ही बागेड़ी में बाढ़ से डेम क्रमांक 2 भराया था। डेम क्रमांक 2 की जलसंग्रहण क्षमता 95 एमसीएफटी व डेम-1 की क्षमता 283 एमसीएफटी है। पर्याप्त पानी जमा होने से ग्रेसिम ने 8 जुलाई से बंद पड़ी 8, 9 व 11 नंबर मशीन को भी शुरू करने निर्णय लिया है। राहत यह है कि अब जलसंकट की कोई स्थिति नहीं है। उद्योग बंद होने की संभावना भी समाप्त हो गई है। अब तक क्षेत्र में 10 इंच बारिश हो चुकी है। शहर में नपा द्वारा बगैर खुदाई किए सीसी सड़क बनाने से सड़क का लेवल घरों से ऊंचा होने से पाड़ल्या रोड में भी लोगों के घरों में पानी घुस गया।

शाम 5 बजे चामुंडा माता मंदिर तक पहुंचा पानी
बागेड़ी में बाढ़ से डेम क्रमांक 2 शाम 5 बजे ओवरफ्लो होकर बहने लगा। इससे चंबल तट स्थित चामुंडा माता मंदिर का ओटले के ऊपर से पानी बहने लगा था। ऐसे में अब अगर चंबल के कैचमेंट एरिया में हुई बारिश का पानी अमलावदाबीका व पिपलोदा डेम को पार कर यहां पहुंचा तो मंदिर शनिवार को जलमग्न भी हो सकता है।

नपा अलर्ट, कंट्रोल रूम बनाया
नपा ने आपात स्थिति के लिए बाढ नियंत्रण कक्ष की स्थापना की है। नपाध्यक्ष अशोक मालवीय ने बताया निचली बस्तियों में पानी भरने व किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए नागरिकों के बचाव एवं राहत के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है। साथ ही कम्युनिटी हॉल, रामसहाय मार्ग, सामुदायिक भवन, श्रीराम काॅलोनी, शासकीय विद्यालय क्रमांक 01 व 02, चंबल मार्ग, शासकीय कन्या विद्यालय जवाहर मार्ग, सामुदायिक भवन चेतनपुरा, ब्रजवासी प्रजापत धर्मशाला चंबल मार्ग, मेवाड़ा धर्मशाला, सत्कार भवन रामसहाय मार्ग, माहेश्वरी धर्मशाला जवाहर मार्ग, कल्याण मंडपम बिरलाग्राम को राहत शिविर बनाया गया है। बाढ़ राहत कंट्रोल रूम पुरानी पानी की टंकी में स्थापित किया गया है। यहां दूरभाष 07366-246501, 9926816392 पर सूचना दी जा सकती है।

बिजली गिरने से रेलवे फीडर बंद
शुक्रवार शाम 5 बजे बिड़लाग्राम में आकाशीय बिजली गिरने से रेलवे के फीडर से बिजली सप्लाई बंद हो गई। साथ ही बिड़लाग्राम क्षेत्र की बिजली भी गुल हो गई।

खबरें और भी हैं...