पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • भागवत भगवान से जोड़ती है संबंध : शास्त्री

भागवत भगवान से जोड़ती है संबंध : शास्त्री

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नसरुल्लागंज | भागवत की कथा जीवात्मा परमात्मा के सशक्त संबंध की कथा है। भगवान रूपी दर्पण में स्वयं को देखो कि हम किस स्थान पर हैं। स्वयं का स्थान निश्चित कर जीवन भगवानमय, भक्तिमय, भावनामय एवं भावमय बनाकर भगवान से जोड़ने की कथा भागवत है।यह बातें पंडित जितेंद्र शास्त्री ने शगुन मैरिज गार्डन में चल रही भागवत कथा में कही। उन्होंने बताया कि मनुष्य को भागवत कथा का श्रवण करते रहना चाहिए। इससे उसकी आत्मा में ज्ञान का संचार हो सके। भागवत से मनुष्य को जीवन में आने वाले हर संकट का सामना करने की शक्ति प्राप्त होती है। इसमें आगे भगवान श्री कृष्ण की बाल लीलाओं का चित्रण करते हुए श्रोताओं को बताया कि भगवान प्रीत के वश में होते हैं। उन्होंने भगवान की भक्ति करते हुए जीवन जीने के उपाय बताए कि हर घटना कुछ सीख देती है। अत: अपने प्रतिकूल कोई भी घटना घटे तो उससे सीख लेनी चाहिए। घबराना नहीं चाहिए और न घटना की निंदा करनी चाहिए। इस संसार में हर एक व्यक्ति के रहने का स्थान निश्चित रहता है। अत: पूरे संसार पर मेरा ही अधिकार है, अन्य किसी का नहीं यह गर्व कभी नहीं होना चाहिए।

खबरें और भी हैं...