पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • जय गुरुदेव जय गुरु नानक

जय गुरुदेव-जय गुरु नानक

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुनानकदेव की जयंती शहर में गुरुवार को श्रद्धा से साथ मनी। 546वें प्रकाश पर्व पर सुबह शबद कीर्तन के साथ प्रभातफेरी का आयोजन हुआ। भक्ति संगीत के साथ गुरुनानक देव की विशेष पूजा अर्चना की। बघाना में शाम 5 बजे सिंधी समाज ने शोभायात्रा निकाली। नपा के सामने स्थित गुरुद्वारे पर सुबह 8 से 10 तक शबद कीर्तन लंगर प्रसादी का आयोजन किया गया। इसमें काफी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की। सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक सीआरपीएफ स्थित गुरुद्वारे में शबद कीर्तन हुआ

बच्चोंसे घिर गए विधायक-भागेश्वर महादेवमंदिर स्थित गुरुद्वारे पर विधायक दिलीप सिंह परिहार पहुंचे। जब वे लंगर में भोजन रहे थे तभी बच्चे पास गए और उनके साथ बैठ गए। कुछ बच्चे उनके साथ भोजन करने लगे तो कुछ झूमने लगे। ऐसे में विधायक भी अपने बचपन में खो गए और उनके साथ भोजन करने के बाद भी खेलते रहे।

निकलाचल समारोह-पूज्य सिंधीगुरुद्वारा पंचायत समिति बघाना ने सुबह 5 बजे प्रभात फेरी निकाली। यह प्रमुख मार्गों से निकली। सुबह 11 बजे भोग साहब, दोपहर 1 बजे भंडारा हुआ। शाम 6 बजे नगर के प्रमुख मार्गों से ढोल ढमाकों और बैंडबाजों के साथ जुलूस निकला। चल समारोह सिंधी गुरुद्वारा बघाना से शुरू हुआ जो फतेह चौक, हाेली चौक, सादड़ी रोड, बाबाराम देव मंदिर होते हुए गुरुद्वारा पहुंचा।

नीमच में शाम को बैंडबाजों के साथ चल समारोह निकला। इसमें गुरुनानक देव के जयकारे गूंजे। फोटो भास्कर

सीआरपीएफ में लंगर का आयोजन

सीआरपीएफ स्थित नगर के प्राचीन गुरुद्वारे में प्रकाश पर्व धूमधाम से मनाया। गुब्बारों से आकर्षक सजावट की गई। यहां डेढ़ माह से जारी अखंड पाठ साहब का सुबह 11 बजे समापन हुआ। इसके बाद अरदास के साथ शुरू हुआ शबद-कीर्तन और गुरबाणी व्याख्यान दोपहर 3 बजे तक चला। विभिन्न स्थानों से आए कीर्तन जत्थों ने भाग लिया। गुरुद्वारे में सुबह 11.30 बजे लंगर शुरू हुआ जो शाम 4 बजे तक चला।

भाग्येश्वर मंदिर में गुरु ग्रंथ साहब का पाठ

भाग्येश्वर मंदिर पर गुरुग्रंथ साहब का पाठ हुआ। गुरु ग्रंथ साहब पर अरदास हुई। इसके बाद भोग साहब के बाद प्रसादी और लंगर हुआ। मंदिर में विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। समापन और भोग साहब के साथ भजन संगीत का आयोजन हुआ। प्रसाद वितरण के बाद लंगर हुआ। विधायक दिलीपसिंह परिहार, जिला महामंत्री हेमंत हरित, प्रकाश मोटवानी, सं