पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • पोस्तदाना की खरीदी नहीं होने से किसान परेशान, निराकरण नहीं तो करेंगे आंदोलन

पोस्तदाना की खरीदी नहीं होने से किसान परेशान, निराकरण नहीं तो करेंगे आंदोलन

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कृषि उपज मंडी पोस्तदाना की खरीदी 12 दिन से बंद है। इससे उपज लेकर आने वाले किसान परेशान हो रहे है। समस्या का निराकरण नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

प्रदेश में सरकार ने दो साल से पोस्तदाना के स्टोर-सेल लाइसेंस देने पर रोक लगा दी है। इसके बावजूद बिना लाइसेंस के ही कारोबार हो रहा है। इसका खुलासा हरियाणा में पुलिस द्वारा पकड़े गए पोस्तदाना व धोला पाली के बाद हुआ है। इसमें बिना लाइसेंस के अवैध मानते हुए एक व्यापारी सहित तीन लाेगों को गिरफ्तार किया। इसके पोस्तदाना कारोबारियों ने 10 जुलाई से मंडी में पोस्तदाना खरीदी बंद कर दी। इस साल अफीम फसल अच्छी होने से पोस्तदाना की पैदावार करीब 40 लाख किलो हुई है। घनश्याम माली और गोवर्धन बैरागी ने बताया मंडी में खरीदी बंद होने से उपज घर में रखी है। श्रीराम पाटीदार का कहा पोस्तदाना की खरीदी बंद होने से किसान परेशान है। जल्द निराकरण नहीं हुआ तो आंदोलन की राह पकड़ेंगे। मंडी सचिव राजेंद्रसिंह बघेल ने सरकार तक व्यापारियों की बात पहुंचा दी। जल्द ही पोस्तदाना खरीदी शुरू की जाए।

मुख्यमंत्री से चर्चा की है
पोस्तदाना व्यापारियों की समस्या को लेकर सीएम शिवराजसिंह चौहान से चर्चा हुई है। जल्द ही सीएम से व्यापारियों की चर्चा होगी और समस्या का हल निकाला जाएगा। किसानों की सुविधा का भी ध्यान रखा जाएगा। दिलीपसिंह परिहार, विधायक, नीमच

समस्या का हल निकालेंगे

मंडी में खरीदी को लेकर समस्या आ रही है तो उसका हल निकाला जाएगा। प्रयास कर रहे है जल्द खरीदी शुरू हो जाए। कौशलेंद्र विक्रम सिंह, कलेक्टर, नीमच

खबरें और भी हैं...