• Hindi News
  • National
  • छह महीने में पुल बनाने का किया था दावा, शिलान्यास के 7 माह गुजर गए

छह महीने में पुल बनाने का किया था दावा, शिलान्यास के 7 माह गुजर गए

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश के मौसम में ग्रामीण फिर होंगे परेशान,भोपाल सागर मुख्य सड़क मार्ग पर टूटा पड़ा है बीनापुर गांव स्थित कहूला पुल

भास्कर संवाददाता|गैरतगंज

तहसील मुख्यालय से महज 7 किमी दूर भोपाल सागर मार्ग पर बीनापुर गांव के पास6 साल से कहूला पुल टूटा पड़ा है। जबकि नए निर्माण के लिए करीब 7 महीने पहले शिलान्यास हो चुका है। पुल टूटा होने के कारण हर साल बारिश में मार्ग बंद हो जाता है। इस बार भी बारिश शुरू होते ही ग्रामीणों को चिंता सताने लगी है। नए पुल का निर्माण मप्र सड़क विकास निगम के ठेकेदार को 4.12 करोड़ की लागत से करना था। लेकिन अभी तक काम ही शुरू नहीं किया गया है।

बीनापुर गांव स्थित कहूला पुल 2011 में वजनी ट्राले की क्रासिंग के दौरान टूट गया था। कुछ दिन बाद रायसेन राहतगढ़ सड़क का जिम्मा संभालने वाली वेल्सपन कंपनी ने अस्थायी व्यवस्था के तहत उसी पुल के बगल में छोटा वैकल्पिक पुल बना कर यातायात सुचारू कर दिया था। बाद में मप्र सड़क विकास निगम ने इस पुल के निर्माण का शिलान्यास करवाया था। तब से लेकर आज तक पुल निर्माण के कार्य मे कोई प्रगति नहीं हुई है। पुल टूटने के 6 साल बाद और पुल के शिलान्यास के 7 महीने गुजर जाने के बाद भी पुल निर्माण का कार्य शून्य पड़ा रहने से भोपाल सागर मुख्य सड़क मार्ग पर एक बार फिर इस वर्षा काल में रास्ता बंद होने का खतरा पैदा हो गया है।

ठेकेदार ने छह महीने में पुल बनाने का किया था दावा, 7 महीने शिलान्यास हुए गुजरे : गौरतलब है कि बीनापुर में आयोजित शिलान्यास कार्यक्रम में वनमंत्री डा गौरीशंकर शेजवार एवं लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह राजपूत की मौजूदगी में मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम के अधिकारियों एवं खुद ठेकेदार ने भी छह माह में पुल का निर्माण कार्य पूर्ण करने की बात कही थी जो झूठी साबित हुई। निर्माण न होने के कारण लोगों को इस बारिश में भी परेशान होना पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...