• Hindi News
  • National
  • दुर्घटना पर चालक जिम्मेदार, मालिक नहीं बनेंगे पार्टी

दुर्घटना पर चालक जिम्मेदार, मालिक नहीं बनेंगे पार्टी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बस, ट्रक, कार या किसी अन्य तरह का वाहन चलाते वक्त दुर्घटना हुई तो अब पूरी जिम्मेदारी वाहन चालक की होगी। अब ऐसी लापरवाही में वाहन स्वामी के खिलाफ प्रकरण दर्ज नहीं होगा, न ही दावा करने पर बीमा कंपनी से किसी तरह की मदद मिल सकेगी। परिवहन मंत्रालय ने मोटर-व्हीकल एक्ट में यह नया संशोधन किया है, जो अब लागू होने जा रहा है। इस बारे में परिवहन विभाग के कार्यालयों तक सूचना जारी की जा चुकी है। इसमें स्पष्ट है कि दुर्घटना चालक द्वारा की जा रही तो अब मामले में वाहन स्वामी या बीमा कंपनी पक्षकार नहीं बनेगी। पूरा खामियाजा घटना का दोषी वाहन चालक भुगतेगा।

बढ़ते सड़क हादसों को देखते हुए केंद्रीय परिवहन मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है। जिले में भी हादसों की संख्या लगातार बढ़ी है। ज्यादातर मामले ट्रक, बस और अन्य चार पहिया वाहनों के हैं। अब तक देखा जाता था कि दुर्घटना के बाद घटनास्थल से चालक भाग जाता था और वाहन के रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर वाहन स्वामी के खिलाफ एफआईआर होती थी। अब ऐसे मामलों में वाहन चालक को पूरी तरह से दोषी माना जाएगा। अगर वाहन का बीमा है तो भी बड़ी दुर्घटना की स्थिति में आरोपी को दावे का लाभ नहीं दिया जाएगा, न ही वाहन मालिक पर किसी तरह की परेशानी आएगी। नए मोटर-व्हीकल एक्ट के मुताबिक दुर्घटना होने पर हादसे की पूरी जिम्मेदारी वाहन चालक के नाम आएगी। परिवहन मंत्रालय नए नियमों का प्रारूप तैयार कर चुका है। सभी जिलों में इसका विवरण भी पहुंचा दिया है। अब इसे जल्द एक साथ सभी जिलों में लागू करने की तैयारी है।

जुर्माना शुल्कों में बढ़ोतरी
नए मोटर-व्हीकल एक्ट में सभी वर्ग के जुर्माना शुल्कों में खासी बढ़ोतरी की गई है। आरटीओ के मुताबिक परिवहन मंत्रालय ने बरसों बाद शुल्क व्यवस्था नए सिरे से तय की है। जांच में अगर किसी बाइक या कार चालक के पास वाहन के दस्तावेज, ड्राइविंग लाइसेंस बीमा व अन्य डिटेल नहीं मिले तो अब सीधे 5000 रुपए जुर्माना होगा। पिछले दिनों बाइक चालक के साथ ही पीछे बैठने वाले के लिए भी हेलमेट अनिवार्य किया जा चुका है।

नए एक्ट में सख्ती अधिक
केंद्रीय परिवहन मंत्रालय ने नए एक्ट में पहले की तुलना में ज्यादा सख्ती की है। लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाकर दुर्घटनाओं के प्रकरण रोकने के मकसद से एक्ट में संशोधन किए गए हैं। भारती वर्मा, प्रभारी डीटीओ रायसेन

मोटर-व्हीकल एक्ट
खबरें और भी हैं...