पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • फैला प्रकाश, गूंजे गुरु नानक के जयकारे

फैला प्रकाश, गूंजे गुरु नानक के जयकारे

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आगे-आगेपंज प्यारे चल रहे थे तो पीछे शबद-कीर्तन करती संगत। जगह-जगह पुष्पवर्षा की जा रही थी। मौका था गुरु नानक जयंती पर निकले चल समारोह का। गुरुवार को नगर के प्रमुख मार्गों से निकले इस चल समारोह का नजारा देखते ही बन रहा था।

गुरु नानक जयंती पर्व प्रकाश उत्सव के रूप में सिख समाज ने मनाया। गुरुद्वारे में दो दिन से चल रहे अखंड पाठ साहिब का गुरुवार सुबह समापन हुआ। इसके बाद शबद कीर्तन किया गया। सुबह 11 बजे से गुरुद्वारे में गुरू के अटूट लंगर का आयोजन था, जिसमें बड़ी संख्या में सिख समाजजनों सहित अन्य समाज के श्रद्धालुओं ने प्रसादी ली। इसके बाद शाम के समय शहर के विभिन्न मार्गों से निकले चल समारोह का शहर में जगह-जगह पुष्प वर्षा कर स्वागत हुआ। गुरुनानक जयंती के अवसर पर गुरुवार शाम गंगा आश्रम स्थित गुरुद्वारा से चल समारोह की शुरुआत हुई। यह चल समारोह जगदीश मंदिर होता हुआ आष्टा रोड, कोतवाली कोतवाली चौराहा, बड़ा बाजार से नमक चौराहा होते हुए वापस गुरुद्वारे पहुंचा।

चलसमारोह में पंज प्यारों का हुआ स्वागत

चलसमारोह में सबसे आगे हाथों में तलवार लेकर पंज प्यारे चल रहे थे। इनके पीछे समाज के बच्चे रंग बिरंगी पोशाकों में गुरु नानक के जयकारे लगा रहे थे। नगर में जगह-जगह कई सामाजिक और धार्मिक संगठनों ने इनका जोरदार स्वागत किया।

माथाटेक लिया लोगों ने आशीर्वाद

चलसमारोह में गुरुग्रंथ साहिब की मनमोहक झांकी सजाई गई थी। लोगों ने माथा टेक आशीर्वाद लिया। झांकी के पीछे समाज की महिलाएं शबद कीर्तन करती हुई चल रही थीं। इस दौरान कई स्थानों पर चल समारोह का स्वागत किया गया। चल समारोह में सिख समाज के अध्यक्ष महेंद्र सिंह अरोरा मिंदी सहित जसवंत सिंह रजपाल, गुरदयाल सिंह दुआ, जसपाल सिंह अरोरा, चरनजीत सिंह चन्ना, महेन्द्र सिंह खनूजा, सीएस लांबा, चरनजीत रतन, महेंद्र जीत छाबड़ा, प्रीतपाल सिंह इचप्राणी, रघुवीर सेठी, कुलभूषण बग्गा, जयमल राजपाल, परविंदर सिंह मल्होत्रा, कुलदीप सेठी, हरभजन राजपाल, गोविंद सिंह जुनेजा, जसवीर सिंह रतन, कुलदीप ठेकेदार, केप्टन राजपाल अहमदपुर, परमजीत छाबड़ा आदि उपस्थित थे। इस मौके पर प्रसादी का वितरण भी किया गया।

सीहोर. चल समारोह कीर्तन करती चल रहीं सिख समाज की महिलाएं।