पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • गुरुग्रंथ साहिब पर मत्था टेका और अरदास की

गुरुग्रंथ साहिब पर मत्था टेका और अरदास की

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
हर्षोल्लास से मनाया गुरुनानक देव का प्रकाश पर्व

भास्कर संवाददाता|श्योपुर

सिखसमुदाय ने अपने प्रथम धर्मगुरु गुरुनानक देव का 545 वां प्रकाश पर्व गुरुवार को पारंपरिक श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया। इस अवसर पर शहर के रेलवे स्टेशन स्थित श्री गुरुनानक देव गुरुद्वारे में विभिन्न धार्मिक आयोजनों के बीच श्रद्धालुओं की विशेष चहल पहल रही। यहां हजारों की तादाद में श्रद्धालुओं ने गुरुग्रंथ साहेब पर मत्था टेका और पारिवारिक सुख-समृद्धि के लिए अरदास की। गुरुद्वारे में सूरज की पहली किरण के साथ शुरू हुआ श्रद्धालुओं के आने का क्रम दोपहर देर तक अनवरत चला। इस दौरान वाहे गुरुजी का खालसा, वाहे गुरु की फतेह..., बोले सो निहाल, सत श्री अकाल..के उद्घोषों से वातावरण गूंजता रहा।

दीवानसजा और निशान साहेब का चोला बदला: गुरुद्वारेमें अल सुबह से ही गुरुनानक देव के प्रकाश पर्व का उल्लास बिखरने लगा। गुरुद्वारे के मुख्य ग्रंथी भाई हरपाल सिंह की अगुवाई में आकर्षक दीवान सजाया गया। वहीं बाबा सखत्तर सिंह द्वारा सिख संगत की मौजूदगी में परंपरानुसार निशान साहेब का चोला बदला गया। इसके साथ ही गुरुनानक जयंती पर्व के उपलक्ष्य में मंगलवार से चल रहे अखंड साहेब पाठ का गुरुवार सुबह भोग चढ़ाने के साथ समापन किया गया। इस अवसर पर गुरुनानक पब्लिक स्कूल के बच्चों और शिक्षक-शिक्षिकाएं मौजूद रहे।