• Hindi News
  • National
  • 1 शिक्षक, 2 स्कूल का प्रभार, रिजल्ट होगा प्रभावित

1 शिक्षक, 2 स्कूल का प्रभार, रिजल्ट होगा प्रभावित

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कराहल/श्योपुर | विकास खंड के टिकटौली गांव में शासकीय प्राइमरी एवं मिडिल स्कूल एक ही शिक्षक के भरोसे संचालित होने से पूरे सत्र में शिक्षण कार्य प्रभावित रहा है। जिसका असर परीक्षा परिणाम पर पड़ेगा। यह बात टिकटौली गांव के अभिभावकों ने बताई। दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा पर वर्ष 2009 में टिकटौली में मिडिल स्कूल खोला गया था। लेकिन स्कूल में अभी तक एक भी शिक्षक की पदस्थी नहीं की गई है। वर्ष 2009 से ही प्राइमरी स्कूल के हेडमास्टर मुन्नीलाल बाड़ेरकर ही प्राइमरी व मिडिल स्कूल संभालते हैं। वर्तमान में प्राइमरी स्कूल में 94 और मिडिल स्कूल में 114 विद्यार्थी दर्ज हैं। स्थानीय अभिभावकों का कहना है कि शिक्षकों की पदस्थापना नहीं होने से बच्चों का भविष्य से खिलवाड़ हो रहा है। उधर ब्लॉक शिक्षा अधिकारी का कहना है कि वर्ष 2009 से विभागीय स्तर पर शिक्षकों की पदस्थी नहीं होने के कारण एक ही शिक्षकों को दो स्कूल का प्रभार देना मजबूरी है।

खबरें और भी हैं...