• Hindi News
  • National
  • 40 लाख खर्च फिर भी नाला अधूरा औद्योगिक क्षेत्र में फिर भरेगा पानी

40 लाख खर्च फिर भी नाला अधूरा औद्योगिक क्षेत्र में फिर भरेगा पानी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ठेकेदार की मनमानी, नया नाला बनाने के बजाए पुराने पर ही कराया काम

औद्योगिक क्षेत्र में लगे हैं 15 से अधिक उद्योग, बारिश में बढ़ेगी समस्या

भास्कर संवाददाता | श्योपुर

शिवपुरी रोड पर स्टेडियम से लगे इंडस्ट्रीयल एरिया को उद्योग विभाग अब तक पूरी तरह विकसित नहीं कर पाया है। इस साल यहां नया नाला बनाने के लिए 40 लाख रुपए जारी किए गए। इसका काम मप्र लघु उद्योग निगम को दिया गया लेकिन ग्वालियर के ठेकेदार ने पुराने नाले के ऊपर ही नया नाला बना दिया। जो नाला बनाया गया, वह भी कई जगह अधूरा छोड़ दिया गया। जहां तक नाला बनाया गया है, वहां पानी निकासी की व्यवस्था नहीं है। ऐसे में इस साल भी तेज बारिश होने पर पानी भरने की समस्या आएगी।

स्टेट हाईवे किनारे बने इंडस्ट्रियल एरिया में कराए गए इस काम के कारण यहां लगे उद्योगों को समस्या आएगी। उद्योग विभाग के अधिकारी भी इस नाले का काम पूरा कराने को लेकर प्रयास नहीं कर रहे। वहीं जिला मुख्यालय पर पॉलीटेक्निक के पास नए औद्योगिक क्षेत्र के लिए चिह्नित 240 बीघा जमीन को लेकर श्योपुर विधायक दुर्गालाल विजय ने विधानसभा में प्रश्न लगाया है।

उद्योग मंत्री से भी हो चुकी है मुलाकात
नया औद्योगिक क्षेत्र बनाने के लिए जमीन मुहैया कराने के लिए उद्योग मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया से भी मिल चुके हैं। विधायक का कहना है कि मंत्री ने उन्हें आश्वासन दिया है। जल्द ही श्योपुर में जमीन उपलब्ध करा दी जाएगी। अब 17 जुलाई से शुरू होने जा रही विधानसभा में यह पता चलेगा कि यह प्रयास कहां तक सफलता होता है।

काम देखने जाऊंगा
औद्योगिक क्षेत्र के लिए 240 बीघा जमीन की मांग लगातार कर रहा हूं। विधानसभा में इस बार फिर प्रश्न लगाया है। वर्तमान औद्योगिक क्षेत्र में 40 लाख के नाले के काम के बारे में मुझे जानकारी नहीं है। मौके पर जाकर काम देखूंगा। काम पूरा कराया जाएगा। दुर्गालाल विजय, विधायक श्योपुर

काम पूरा कराएंगे

ग्वालियर के ठेकेदार सतेंद्र तिवारी को नाला निर्माण का काम मिला है। 40 लाख में यह काम कराया जा रहा है। कुछ काम रह गया है। नाले का निर्माण ठेकेदार से पूरा कराना है। अनिल खरे, सब इंजीनियर, मप्र लघु उद्योग निगम

वर्तमान में 15 से अधिक फैक्टरियां चालू
इंडस्ट्रियल एरिया में 15 से अधिक फैक्टरियां चालू हैं। इनमें हरिओम इलेक्ट्रिकल्स के नाम से ट्रांसफार्मर फैक्टरी, मुद्गल इंडस्ट्रीज, बर्फ फैक्टरी, आटा प्लांट, ऑइल प्लांट, धनिया ग्रेडेशन प्लांट आदि शामिल हैं। पानी की निकासी नहीं होने से सभी फैक्टरी संचालक परेशान हैं। वहीं श्योपुर विधायक औद्योगिक क्षेत्र के लिए 48.9 हेक्टेयर जमीन उपलब्ध कराने के लिए विधानसभा में लगातार प्रश्न लगा रहे हैं। अभी तक 6 बार यह मुद्दा उठाया जा चुका है। इस बार पुन: प्रश्न लगाया गया है। उद्योग लगाने के इच्छुक 150 से अधिक लोगों के आवेदन पेंडिंग हैं। यदि जमीन मिलती है तो करीब 3 हजार लोगों को रोजगार मिलने लगेगा। शहर का विकास भी तेजी से होगा लेकिन उद्योग विभाग विशेष ध्यान नहीं दे रहा है।

कलेक्टोरेट के बाबू ने बना ली बाउंड्रीवाल, नहीं है पानी की निकासी की व्यवस्था, कारोबारी हो रहे परेशान
तेल फैक्टरी से आगे ट्रांसफार्मर फैक्टरी के पास पुराना नाला है। इसके पास ही कलेक्टोरेट में पदस्थ बाबू का मकान बना है। बाबू ने मकान की तरफ से बाउंड्रीवाल बनवा दी है। इससे पानी निकासी के लिए जगह नहीं है। ढलान की तरफ अतिक्रमण है। प्रशासन अतिक्रमण नहीं हटा रहा। वहीं शिवपुरी रोड पर पुलिया तक नाला बनाया है। शेष पुराना नाला अलग ही नजर आ रहा है। इसके ऊपर नए नाले का काम नहीं कराया गया। जो नाला है, उसकी भी सफाई नहीं कराई गई है। वहीं नदी की तरफ नाले का काम अधूरा छोड़ दिया गया है। बरसात होने पर पानी बाहर ही नहीं निकल पाएगा। अभी भी दूध डेयरी से निकलने वाली गंदगी आसपास जमा हो रही है। इससे भी लोग परेशान हैं।

शिवपुरी रोड किनारे औद्योगिक क्षेत्र में पुराने नाले पर नाला बनाया, कुछ छोड़ दिया।

खबरें और भी हैं...