पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • रेगुलेटर खराब है तो गैस एजेंसी नहीं लेगी शुल्क

रेगुलेटर खराब है तो गैस एजेंसी नहीं लेगी शुल्क

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लोगों को नहीं जानकारी, गैस एजेंसी वसूल लेती हैं मनमाना शुल्क

भास्कर संवाददाता | श्योपुर

अगर आपके रेगुलेटर में टूट-फूट नहीं हुई है और वह किसी अन्य खराबी काम नहीं कर रहा तो कोई भी गैस एजेंसी आपसे रेगुलेटर बदलने के एवज में शुल्क नहीं ले सकती। सिर्फ टूट-फूट हो जाने पर ही दूसरा रेगुलेटर देने के एवज में शुल्क लिया जा सकता है। इसकी आपको रसीद दी जाएगी। यदि वह रसीद नहीं देता है तो आप रसीद मांग लें। यहां बता दें कि रेगुलेटर का शुल्क 250 रुपए है।

यह जानकारी आम लोगों को नहीं होती, जिसके चलते गैस एजेंसी कई बार मनमाना शुल्क वसूल लेती हैं, बदले में रसीद भी नहीं देती। कई बार सामने आता है कि रेगुलेटर में कोई खराबी आ जाने पर गैस एजेंसी शुल्क वसूल करती है। कई बार तो रसीद तक उपभोक्ता को नहीं दी जाती, जबकि सिर्फ एक ही स्थिति में गैस एजेंसी रेगुलेटर बदलने के एवज में शुल्क वसूल कर सकती है। अगर प्रेशर रेगुलेटर की नोब टूट गई या किसी अन्य खराबी की वजह से वह काम नहीं कर रहा या फिर रेगुलेटर के खराब होने की वजह से गैस लीक हो रही है तो इस स्थिति में बिना कोई शुल्क के आपका रेगुलेटर बदला जाएगा। वहीं अगर आपका रेगुलेटर टूट गया है, उसकी बॉडी में कोई क्षति पहुंची है या फिर रेगुलेटर गुम हो गया है तो इस स्थिति में नया रेगुलेटर लेने के लिए शुल्क देना होगा।

खबरें और भी हैं...