• Hindi News
  • National
  • पेंशनर सेवानिवृत्त जरूर हुआ है, लेकिन थका नहीं

पेंशनर सेवानिवृत्त जरूर हुआ है, लेकिन थका नहीं

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पेंशनर सेवानिवृत्त जरूर हुआ है, लेकिन थका नही है। पेंशनर को हर समय समाजसेवा के कार्य में अग्रणीय रहना चाहिए। पेंशनर का समय पीड़ितो की सेवा में गुजरे तो जीवन और बेहतर होगा।

ये बात पेंशनर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष रतनसिंह राठौर ने कही। वे एसोसिएशन के सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। यहां 75 वर्ष पूर्ण करने वाले पेंशनरों का सम्मान समारोह रखा गया था। विशेष अतिथि भारतीय स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक मुकेश लाड़ व श्री खान मौजूद थे। अध्यक्षता थांदला पेंशनर संघ के अध्यक्ष पीएन मोड़ ने की। कार्यक्रम में संरक्षक के रूप में डीपी परमार मौजूद थे। कार्यक्रम मेें राठौर ने पेंशनर्स की समस्त गतिविधियों के बारे में समझाया। अध्यक्षता कर रहे मोड़ ने कहा न्यूनतम पेंशन, पारिवारिक पेंशन, महिलाओ को ज्ञात नहीं होने से पेंशनर्स सदस्यों को इसकी छानबीन कर न्यूनतम वेतन दिलाना चाहिए। एनएल रावल, अमृतलाल मेहता, सुभाष व्यास, शंकरसिंह चंद्रावत, डीपी परमार, मूलचंद ने भी संबोधित किया।

कार्यक्रम में माैजूद पेंशनर।

इनका हुआ सम्मान

कार्यक्रम में 75 वर्ष पूर्ण करने वाले सुभाष व्यास, अमृतलाल मेहता, शंकरसिंह चंद्रावत, रमणलाल भंडारी, नारायण गेहलोत, भास्कर भट्ट, लक्ष्मणसिंह भूरिया, चम्पालाल जैन, नंदलाल राठौड़, किशनदास वैष्णव, गीताबाई भारती, किरणदेवी उपाध्याय, सुगरा खातून, कांताबाई शर्मा का सम्मान किया गया। अतिथियो ने उन्हें शाल-श्रीफल और प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित किया।

नए सदस्यो को दिलाई सदस्यता

इस मौके पर पेंशनर संघ ने नए सदस्यो को भी सदस्यता दिलाई गई। अब पेंशनर संघ के 374 सदस्य अभी तक हो चुके है। सभी सदस्यो को पुष्पहारो से स्वागत किया गया। समारोह में बंशीधर पालीवाल, गोविंददास बैरागी, गोविंद नागर, रमणलाल चौहान, रामचंद्र पंवार, जगन्नाथ पटेल, अरविंद देवदा, रामचंद भाटी, एसएन भाटी, रमेशचंद्र परमार आदि मौजूद थे। संचालन पेंशनर संघ के जिला उपाध्यक्ष दयाराम पाटीदार ने किया। आभार जेपी राठौर ने माना।

सम्मान समारोह
खबरें और भी हैं...