• Hindi News
  • National
  • आदेश के बाद भी किसानों को नहीं मिला दूसरा पानी

आदेश के बाद भी किसानों को नहीं मिला दूसरा पानी

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्षेत्र के रुंदलाय, बिल्लौद, भवरास, लाखाखेड़ी के किसानों को गेहूं की फसल के लिए अभी तक दूसरा पानी नहीं मिला है। इस मामले में पिछले दिनों किसानों ने एसडीओ से शिकायत की थी, इसके बाद अधिकारियों को पानी देने के निर्देश दिए गए थे, लेकिन 8 दिनों के बाद भी निर्देशों का पालन नहीं किया गया है। इससे किसान अभी भी पानी के लिए परेशान हो रहे हैं, वहीं फसल सूखने की कगार पर पहुंच गई है। इसके बाद सोमवार को जल उपभोक्ता संस्था रुंदलाय अध्यक्ष तेजराम बेड़ा ने कार्यपालन यंत्री सिंचाई विभाग को आवेदन दिया है। इसमें टेल क्षेत्र के किसानों को फसल के लिए पानी उपलब्ध कराने मांग की गई है। उन्होंने बताया ऊपरी क्षेत्र की नहरों में किसान सिंचाई के लिए पानी ले रहे हैं और टेल क्षेत्र में किसानों को अभी तक दूसरा पानी नहीं मिल रहा है। नौसर संस्था की नहर पूरी तरह खुली चल रही है। यही हाल करताना संस्था की नहरों का भी है। एसडीओ के आदेश के बाद भी संस्था के जुड़े अधिकारी पालन नहीं करा पा रहे हैं। इससे जरूरतमंद किसानों के खेतों तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है। बेड़ा ने बताया आदेश का पालन नहीं करने वाले कर्मचारियों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने कार्यपालन यंत्री से रुंदलाय संस्था के अंतर्गत आने वाले किसानों के अधिकार का पानी निर्धारित मात्रा में दिलाने की मांग की है। जिससे किसानों की फसलें बर्बाद होने से बच सकें।

आवेदन सौंपते समय रमेशचंद शर्मा, राजकुमार पटेल, संतोष पटेल, चंद्रभान सिंह, बलराम, मांगीलाल, मोहन समेत अन्य किसान मौजूद रहे। मालूम हो क्षेत्र के किसानों ने 23 जनवरी को लिखित शिकायत देकर एसडीओ मनमीत मंडराई से टेल क्षेत्र के किसानों को पानी देने की मांग की थी। इसमें रुंदलाय उपनहर की सभी नहरें बंद करवाकर टेल क्षेत्र में दूसरा पानी दिलाने के आदेश जारी किए थे, लेकिन इनका अब तक पालन नहीं हुआ है। किसानों को फसल के लिए पानी नहीं मिला है।

खबरें और भी हैं...