• Hindi News
  • तैरते पुल से यातायात शुरू, पहले दिन 500 लोग, 100 बाइक निकली

तैरते पुल से यातायात शुरू, पहले दिन 500 लोग, 100 बाइक निकली

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुल व यात्रियों का कराया बीमा
छोटी छीपानेर में नर्मदा पर बना है तैरते पुल पहले दिन पुल निशुल्क आवागमन

भास्कर संवाददाता | हरदा

कुछ कर गुजरने की दृढ़ इच्छा शक्ति हो तो फिर संसाधनों की कमी भी आड़े नहीं आती। इसे सच साबित कर दिखाया है छोटी छीपानेर के 25 रचनात्मक सोच वाले युवाओं की टीम ने। युवाओं ने हरदा व सीहोर जिले के बीच की करीब 50 किमी दूरी को कम करने के लिए 3 माह पहले ने पहल की। 75 दिन की भागदौड़ व मेहनत के दम पर टीम ने नर्मदा की लहरों पर लोहे का तैरता पुल बना दिया। युवाओं ने सुरक्षा के सारे मापदंड पूरे करते हुए पुल बिना किसी इंजीनियर या तकनीकी एक्सपर्ट के तैयार किया। नर्मदा जयंती पर पुल से आवागमन शुरू हो गया। टिमरनी एसडीएम सपना लौवंशी, तहसीलदार बीपी सिंह ने हरी झंडी दिखाकर शुरुआत की।

भास्कर की खबर पर मुहर
हरदा। पुल से निकलते ग्रामीण।

एक नजर में पुल
पुल की लंबाई 650 मीटर

लागत करीब 40 लाख रुपए

पुल बनने में लगा समय 75 दिन

इतने लोगों ने किया काम 25

लोहा 50 बॉक्स (10 टन प्रति नग)

किराया लगेगा 10 रु. वाहन

यह फायदा 20 से 50 किमी

कम होगी दूरी

5 फरवरी को प्रकािशत खबर

भास्कर लगातार