पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

‘पुलिस हिरासत में कैसे आईं चोटें?’

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जबलपुर। हाईकोर्ट में उस महिला का आरोप सही निकला, जिसने अपने पति की अवैध हिरासत में पुलिस द्वारा पिटाई करने को लेकर लगाया था। महिला के पति के हुए मेडिकल परीक्षण में चोटों की पुष्टि होने पर जस्टिस केके लाहोटी और जस्टिस विमला जैन की युगलपीठ ने प्रदेश सरकार के गृह मंत्रालय व अन्य को जवाब देने को कहा है। मामले की अगली सुनवाई 30 जुलाई को होगी। यह बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दीक्षितपुरा जबलपुर में रहने वाली कुसुम सोनी की ओर से दायर की गई है। आवेदक का कहना है कि मण्डला जिले की टिकरिया थाना पुलिस लूट के मामले में आवेदक के रिश्तेदार की तलाश में 4 जून 2012 की रात करीब 9 बजे उसके घर पर आई और उसके पति हरीश उर्फ बबलू सोनी को हिरासत में लेकर गई। मामले पर पिछली सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया था कि हिरासत में लेने के बाद पुलिस ने उसे और उसके पति की जमकर पिटाई की। सबूत के तौर पर उसने शरीर के जख्म दिखाकर आरोप लगाया कि पुलिस ने उसका मेडिकल परीक्षण भी नहीं कराया। इस आरोप को गंभीरता से लेते हुए युगलपीठ ने जबलपुर के सीजेएम को कहा कि वो तत्काल आवेदक के पति का मेडिकल परीक्षण कराएं। हाईकोर्ट के निर्देश के परिप्रेक्ष्य में हरीश सोनी उर्फ बबलू का मेडिकल परीक्षण मण्डला के जिला चिकित्सालय में कराया गया। परीक्षण करने वाले डॉ. सुनील यादव ने हरीश के शरीर में पाई गईं चोटों के संबंध में अपना अभिमत भी दिया, जो बतौर रिकॉर्ड हाईकोर्ट में पेश किया गया। इस रिपोर्ट को गंभीरता से लेते हुए युगलपीठ ने सरकार को जवाब देने को कहा। आवेदक की ओर से अधिवक्ता अनिल सोनी और राज्य सरकार की ओर से उप महाधिवक्ता विजय पाण्डेय पैरवी कर रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

और पढ़ें