• Hindi News
  • परिवार वालों की पसंद के साथ शिक्षित और समझदार जीवन साथी चाहती हैं युवतियां

परिवार वालों की पसंद के साथ शिक्षित और समझदार जीवन साथी चाहती हैं युवतियां

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अखिल भारतीय चड़ार क्षत्रिय समाज का प्रांतीय अधिवेशन हुआ

भास्कर संवाददाता | सागर

मेरा जीवन साथी मेरे परिवार की पसंद का होना चाहिए। यह भी जरूरी है कि वह हमारे स्तर का हो। यह बात मुगावली से आई 31 वर्षीय ममता चड़ार ने चड़ार समाज के युवक-युवती सम्मेलन में कही। अखिल भारतीय चड़ार (चिराड़) क्षत्रिय समाज जिला सागर ने प्रांतीय अधिवेशन एवं परिचय सम्मेलन रविवार को रवीन्द्र भवन में आयोजित किया। परिचय देने वाले युवक-युवतियों ने अपने पसंदीदा जीवन साथी के बारे में बताया। मुगावली से ही आए 33 वर्षीय राजकुमार ने बताया कि मैं नगर पालिका में कार्यरत हूं। मुझे शिक्षित और समझदार जीवन साथी चाहिए। जबलपुर से आई इंजीनियर रजनी और रचना दोनों बहनों ने कहा कि हमारी इच्छा है कि हमारा जीवन साथी उच्च शिक्षित हो। मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री गोपाल भार्गव ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मैं रहली और गढ़ाकोटा ब्लॉक के बीच सामुदायिक भवन के लिए 10 लाख रुपए देने की घोषणा करता हूं। आप सभी मिलकर जगह का चयन कर लें। समाज के राज्य स्तरीय सम्मेलन में इतनी संख्या में समाजजनों को देख मुझे आत्यधिक हर्ष हो रहा है।

सांसद लक्ष्मीनारायण यादव ने शहर के चड़ार समाज के सामुदायिक भवन के विस्तार के लिए तीन लाख रुपए और नगर विधायक शैलेन्द्र जैन ने दो लाख रुपए दिए। चड़ार समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलाराम आठिया ने कहा कि प्रतिवर्ष आवश्यक रूप से एक समाज का परिचय सम्मेलन जिला स्तर पर होगा। इसकी शुरुआत सागर से हुई है। कार्यक्रम में हस्तशिल्प निगम अध्यक्ष नारायण कबीरपंथी, नरयावली विधायक प्रदीप लारिया, जिलाध्यक्ष राजा दुबे, चड़ार समाज के मप्र के अध्यक्ष पुरषोत्तम आठया, देवरी जनपद अध्यक्ष आचल आठिया, पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष रजनी आठिया, ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष हीरासिंह राजपूत आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।

मप्र, उप्र और अन्य राज्यों से आए करीब 70 युवक-युवतियों ने परिचय दिया व 275 पंजीयन फॉर्म भरे गए। कार्यक्रम के समाज के करीब 5 हजार लोग मौजूद थे। इन्हें खाना की निशुल्क व्यवस्था रखी गई थी। यह जानकारी जिलाध्यक्ष माधव चड़ार ने दी।