• Hindi News
  • जिला अस्पताल में अब 10 दिन बाद शुरू हो पाएगी डायलिसिस की सेवा

जिला अस्पताल में अब 10 दिन बाद शुरू हो पाएगी डायलिसिस की सेवा

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में डायलिसिस यूनिट चालू होने में अभी करीब 8 से 10 दिन का वक्त और लगेगा। यहां पिछले दिनों आए भोपाल की कंपनी के इंजीनियरों ने आरओ सिस्टम तो लगा दिया है, लेकिन मशीनों की फिटिंग बाकी रह गई है। जिला अस्पताल प्रबंधन 10 दिन बाद अस्पताल में डायलिसिस सेवा शुरू होने का दावा कर रहा है।

जानकारी के अनुसार शासन ने प्रदेश के जिला अस्पताल में डायलिसिस सेवा शुरू करने के लिए दो-दो मशीनें दी थीं। जिला अस्पताल में प्रदेश में सबसे तेजी से काम चल रहा था। आरओ सिस्टम के लिए जगह नहीं मिलने के कारण यूनिट का काम अटक गया था। करीब एक हफ्ते पहले कंपनी के इंजीनियर डायलिसिस यूनिट में आरओ सिस्टम लगाने आए थे। यूनिट में आरओ सिस्टम तो लग गया है, लेकिन मशीनें अभी भी फिट होने का काम बाकी रह गया है। इस काम में करीब एक हफ्ते का वक्त लगेगा। यूनिट तैयार होने के बाद इसे टेस्ट किया जाएगा। इसके बाद ही जिला अस्पताल में डायलिसिस मशीन चालू हो पाएंगी। गौरतलब है कि जिला अस्पताल में डायलिसिस यूनिट 26 जनवरी से शुरू करने के आदेश स्वास्थ्य सेवा संचालनालय भोपाल से आए थे। मुख्यमंत्री ने एक साथ पूरे प्रदेश में यूनिट शुरू करने के निर्देश दिए थे, लेकिन यूनिट करीब 20 दिन बाद भी चालू नहीं हो पाई है।

करीब 40 मरीज लिस्टेड किए गए

यूनिट शुरू होते ही डायलिसिस करने के लिए जिला अस्पताल प्रशासन ने जिले के 40 मरीजों को लिस्टेड किया है। सबसे पहले इन मरीजों का डायलिसिस किया जाएगा। इसके बाद किडनी की समस्या से पीड़ित अन्य मरीजों को सुविधा दी जाएगी।

सागर . जिला अस्पताल परिसर में डायलिसिस यूनिट का फ्लैक्स लगा दिए गए हैं।

जिले में हैं करीब 100 मरीज
डॉक्टरों के अनुसार वर्तमान में जिले में किडनी की समस्या से पीड़ित करीब सौ मरीज हैं। इन्हें समय-समय पर डायलिसिस कराने की जरूरत पड़ती है। जिले में इसकी सुविधा नहीं होने के कारण ज्यादातर मरीजों को भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर या फिर इंदौर जाना पड़ता है। इसके अलावा वर्तमान में काफी मरीज डायलिसिस कराने नागपुर भी जा रहे हैं।

Ãजिला अस्पताल में डायलिसिस यूनिट शुरू होने में अभी करीब एक हफ्ते का वक्त और लग जाएगा। बाकी सारी तैयारियां तो हो गई हैं, लेकिन मशीनों की फिटिंग में अभी थोड़ा और काम बाकी है। इसे अगले हफ्ते तक पूरा कर लिया जाएगा। - डॉ. इंद्राज सिंह, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल, सागर