पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • उज्जैन। क्षिप्रानदी के तट पर नगर निगम द्वारा आयोजित पारंपरिक कार्तिक

उज्जैन। क्षिप्रानदी के तट पर नगर-निगम द्वारा आयोजित पारंपरिक कार्तिक

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उज्जैन। क्षिप्रानदी के तट पर नगर-निगम द्वारा आयोजित पारंपरिक कार्तिक मेले का शुभारंभ गुरुवार शाम अव्यवस्थाओं के बीच हुआ। शुभारंभ कार्यक्रम सांस्कृतिक मंच पर आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री थावर चंद गेहलोत थे। संचालन पार्षद सत्यनारायण चौहान ने किया। शिक्षा मंत्री पारसजैन, योजना आयोग के उपाध्यक्ष बाबूलाल जैन, विधायक डॉ. माेहन यादव, महापौर रामेश्वर अखंड, निगमअध्यक्ष सोनू गेहलोत, निगमयुक्त अविनाश लवानिया, पार्षद जगदीश पांचाल, मंडी अध्यक्ष बहादुर सिंह बोरमुंडला मौजूद थे। पहले दिन मेले में हजारों ग्रामीणों का सैलाब उमड़़ा। हालांकि अब भी आधी से ज्यादा दुकानें खाली पड़ी हैं। मेले में अव्यवस्था के बीच लोगों ने झूलाें के आनंद लिए, नाट्यमंचन देखा अौर वीर तेजाजी की कथा सुनी। रात 8 बजे आनंद बाबू सांखला की स्मृति में महाकवि कालिदास की स्मृति में नाट्य मंचन हुआ। इसके बाद वीर तेजाजी की कथा हुई। इधर मेले में लॉटरी सिस्टम से मिलने वाली दुकान का पुराने व्यापारियों ने विराेध किया हैं। व्यापारियों का कहना है यदि उनकी कपड़े की दुकान है और लॉटरी में होटल के पास दुकान मिली तो व्यापार कैसे होगा। दुकानदारों ने मंत्री गेहलोत को ज्ञापन सौंपकर दुकान अपने स्थान पर देने की मांग की है।