आगे क्या| अरब सागर व

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
होशंगाबाद में 8 इंच, मंदसौर में 5 इंच, नागदा में 4.5 इंच, रतलाम में 4.16 इंच, नीमच में 3 इंच बारिश दर्ज की गई। उज्जैन में 24 घंटे में 78.0 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। अब तक कुल 212 िममी (8 इंच से ज्यादा) पानी बरस चुका है। यह सामान्य से 2 इंच कम है। कालापीपल में बिजली गिरने से एक महिला और एक किशोर की मौत हो गई। रतलाम में तेज बारिश से एक मकान ढह गया। महिला की दबने से मौत हो गई।


आगे क्या| अरब सागर व बंगाल की खाड़ी से नमी मिलने से मानसून सक्रिय है। शनिवार को भी इंदौर, खरगोन, खंडवा, धार, देवास में बारिश हो सकती है। झाबुआ, अागर, शाजापुर, रतलाम, उज्जैन, बड़वानी में भारी बारिश की संभावना है।

फसलों के लिए वरदान|कृषि विभाग ने रिमझिम बारिश को सोयाबीन की फसल के लिए वरदान बताया। करीब एक लाख 70 हजार हेक्टेयर में सोयाबीन बोया है। अगर तीन-चार दिन और बारिश नहीं होती तो फसलों को नुकसान हो जाता।





फिलहाल फसल नुकसान की कहीं से सूचना नहीं मिली।

प्रदेश में बारिश का दौर शुक्रवार को भी जारी रहा। खासकर मालवा-निमाड़ में अच्छी बारिश हो रही है। उज्जैन में 24 घंटे में 3 इंच बारिश हो चुकी है।

प्रदेश तरबतर; कालापीपल में 2 की मौत, उज्जैन में 3 इंच बारिश
धार जिले में बागेड़ी नदी का पानी देदला गांव के घरों में घुस गया।

खबरें और भी हैं...