• Hindi News
  • National
  • ये आसमान से गिरती बर्फ नहीं, शिप्रा में प्रदूषण से बने झाग हैं

ये आसमान से गिरती बर्फ नहीं, शिप्रा में प्रदूषण से बने झाग हैं

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उज्जैन | शिप्रा के त्रिवेणी स्टापडेम पर शुक्रवार सुबह से पानी में झाग का यह नजारा दिखाई दे रहा है। दो दिन की बारिश से उफनाती शिप्रा में इंदौर की कान्ह नदी से इंडस्ट्रीयल वेस्ट वाटर बह कर शिप्रा में मिल रहा है। बारिश के कारण कान्ह का पानी स्टापडेम से ओवर-फ्लो होकर त्रिवेणी पर शिप्रा में मिलता है। शिप्रा के इस स्टापडेम से जब पानी ओवर-फ्लो होकर नीचे गिरता है तो प्रदूषण के कारण उसमें ऐसे झाग बनते हैं। बारिश में ऐसी स्थिति कई बार बनती है। कान्ह डायवर्सन योजना चालू होने के बाद भी प्रदूषित पानी शिप्रा में आना नहीं रुका है। जल संसाधन विभाग के ईई मुकुल जैन का कहना है कि योजना बारिश के लिए नहीं है। बारिश में कान्ह का पानी नहीं रोका जा सकता। कान्ह में बारिश का पानी ही ज्यादा आ रहा है।

खबरें और भी हैं...