पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • जंग लगा लोहा पारसमणि के स्पर्श से नहीं बनता सोना: आचार्य श्री

जंग लगा लोहा पारसमणि के स्पर्श से नहीं बनता सोना: आचार्य श्री

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जंग लगा लोहा पारसमणि के स्पर्श से नहीं बनता सोना: आचार्य श्री

वििदशा| असंयमही संसारी जीव को अनंतकाल से रुला रहा है और आप लोग जरा सी ढील एवं असंयम धारण कर लेते हो। जो संयम का संकेत नहीं समझता उसे दोबारा संकेत नहीं मिलता। हर कार्य में संयम की बहुत ही आवश्यकता होती है। उपरोक्त उद्गार आचार्य श्री विद्या सागर महाराज ने श्री अहर्त चक्र महामंडल विधान के सातवें दिन श्री शीतलधाम हरीपुरा में व्यक्त किए। आचार्य श्री ने कहा कि जैसे जंग लगे लोहे को पारसमणि से कितना भी स्पर्श करा दो वह सोना नहीं बन सकता, उसी प्रकार असंयम का स्वरूप है। आप सभी लोग विगत छह दिनांे से धर्म आराधना कर रहे हैं आप सभी का जीवन संयमित हो,आशीर्वाद प्रदान किया।