पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन फार्म भरने में रही समस्या

स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन फार्म भरने में रही समस्या

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिलेके स्कूलों एवं कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को स्कॉलरशिप का पंजीयन कराने के लिए नया पोर्टल शुरू हो गया है। इस नए पोर्टल पर भी सर्वर डाउन की पूरानी समस्या के चलते विद्यार्थियों और कंप्यूटर सेंटर संचालकों को परेशानी से जूझना पड़ रहा है। स्थिति यह है कि कंप्यूटर सेंटर संचालक जैसे ही ऑनलाइन फार्म कंपलीट करते हैं, वैसे ही सर्वर की समस्या का मैसेज स्क्रीन पर आकर पूरी मेहनत पर पानी फेर देता है।

जिले में जहां 7 हजार से अधिक छात्र-छात्राएं विभिन्न महाविद्यालयों में दर्ज हैं। इससे कई गुना अधिक स्कूलों में स्कॉलरशिप पाने के लिए पात्र छात्र-छात्राएं दर्ज हैं। विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप के लिए स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीयन कराना अनिवार्य है। इसके लिए कंप्यूटर सेंटरों पर संबंधित विद्यार्थी बड़ी संख्या में पहुंच तो रहे हैं, लेकिन सर्वर डाउन की वजह से उन्हें निराश होकर वापस लौटना पड़ रहा है। नवंबर माह की शुरुआत में ही स्कॉलरशिप पोर्टल शुरू हुआ है और शुरुआत में ही सर्वर की परेशानी सामने आने लगी हैं। इससे कंप्यूटर सेंटर संचालक भी परेशान हैं। उल्लेखनीय है कि पोर्टल पर डले स्कॉलरशिप के फार्म में कई बदलाव किए गए हैं।

नोटिसबोर्ड से हड़कंप

एकओर जहां स्कॉलरशिप के लिए ऑन लाइन पंजीयन में सर्वर डाउन की समस्या हो रही है, वहीं शासकीय गल्र्स कॉलेज में लगे नोटिस बोर्ड से विद्यार्थियों में आपाधापी मची है। गर्ल्स कॉलेज प्रबंधन 10 नवंबर तक विद्यार्थियों से ऑनलाइन पंजीयन कराने की सूचना चस्पा की हुई है। विद्यार्थी सर्वर डाउन की वजह से पंजीयन हो पाने से असमंजस में हैं। गल्र्स कॉलेज प्राचार्य डॉ. सतीश जैन खुद स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन पंजीयन की कोई आखिरी तारीख नहीं होने की बात कह रहे हैं।

सर्वर की परेशानी

एमपीऑनलाइन सेंटर संचालक संतोष नेमा ने बताया कि जब से फार्म भराना शुरू हुए हैं तब से करीब एक से डेढ़ हजार छात्र-छात्राएं सेंटर पर चुके हैं। सर्वर डाउन होने की वजह से महज २५-३० फार्म ही भर पाए हैं। उन्होंने बताया कि एक फार्म को मय दस्तावेजों के कंप्लीट करने में लगभग ३० मिनट का समय लगता है। फार्म पूर्ण होने के तत्काल बाद ही सर्वर से संबंधित समस्या आने से पूरी मेहनत जाया हो जाती है। गुरुवार को दोपहर दो बजे तक एक भी फार्म नहीं भर पाए।

हजारहैं विद्यार्थी

^जिलेके सभी महाविद