पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • 15 अगस्त तक तीसरी लाइन पर दौड़ने लगेंगी ट्रेनें:डीआरएम

15 अगस्त तक तीसरी लाइन पर दौड़ने लगेंगी ट्रेनें:डीआरएम

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आज से झांसी-नागपुर पैसेंजर रद्द, बीना से वापस जाएगी इंटरसिटी और जोधपुर पैसेंजर
बीना-भोपाल रेल खंड में विदिशा से सांची स्टेशन तक तीसरी रेलवे लाइन की नॉन इंटरलॉकिंग यानि एनआई करने, तीसरी लाइन को रनिंग ट्रैक से जोड़ने और तीसरी लाइन की ट्रायल का कार्य 22 जुलाई शनिवार को सुबह 8 बजे से शुरू हो जाएगा। आगामी 30 जुलाई तक विदिशा से सांची तक तीसरी लाइन रनिंग ट्रैक से जोड़ दी जाएगी। एनआई के चलते विदिशा और सांची के बीच सभी ट्रेनों को 15 किमी प्रति घंटे की स्पीड से निकाला जाएगा।

रेलवे इंक्वायरी से मिली जानकारी के मुताबिक इस बीच नागपुर-झांसी पैसेंजर ट्रेन बीना-इटारसी के बीच रद्द रहेगी। भोपाल से बीना जंक्शन के बीच चलने वाली मेमू पैसेंजर ट्रेन इस अवधि में केवल गुलाबगंज से बीना के बीच चलाई जाएगी। ग्वालियर से गुना-अशोकनगर, बीना होते हुए भोपाल तक चलने वाले इंटरसिटी और भोपाल-जोधुपर पैसेंजर बीना जंक्शन से ही वापस हो जाएंगी। इस बीच भोपाल-बिलासपुर और राज्यरानी को बीना से भोपाल के बीच सभी स्टेशनों पर स्टापेज दिया है।

एनआई के चलते ये ट्रेनें नहीं आएंगी विदिशा
22 से 30 जुलाई तक झांसी-नागपुर पैसेंजर बीना से इटारसी के बीच रद्द रहेगी।

भोपाल-बीना मेमू पैसेंजर भोपाल से गुलाबगंज तक कैंसिल रहेगी। यह ट्रेन केवल गुलाबगंज से बीना तक चलेगी।

भोपाल-इटारसी विंध्याचल एक्सप्रेस बीना से भोपाल के बीच में निरस्त रहेगी। केवल इटारसी से बीना तक चलेगी।

भोपाल-जोधपुर पैसेंजर ट्रेन बीना से भोपाल के बीच कैंसिल रहेगी। केवल जोधपुर से बीना तक चलेगी।

भोपाल-ग्वालियर इंटरसिटी एक्सप्रेस बीना से भोपाल के बीच में निरस्त रहेगी। यह ट्रेन बीना से वापस ग्वालियर लौट जाएगी।

ये ट्रेनें हर स्टेशन पर रुकेंगी: -भोपाल से दमोह के बीच चलने वाली राज्यरानी एक्सप्रेस और बिलासपुर-भोपाल एक्सप्रेस को यात्रियों की सुविधा के लिए बीना से भोपाल तक सभी स्टेशनों पर स्टॉपेज दिया जाएगा।

चेंज होगी सिग्नल की पोजीशन
विदिशा के स्टेशन प्रबंधक आरके श्रीवास्तव ने बताया कि नॉन इंटरलॉकिंग का कार्य 22 से 30 जुलाई तक तक चलेगा। इससे पहले प्री-एनआई का कार्य चल रहा था। एनआई का कार्य पूरा होने के बाद अगले 3 दिन तक पोस्ट एनआई का कार्य किया जाएगा। इस बीच स्टेशन पर तीसरी लाइन के लिए पाइंट चेंज होंगे। तीसरी लाइन में ट्रेनों के संचालन के लिए सिग्नल की पोजीशन चेंज की जाएगी। कुछ सिगनल शिफ्ट किए जाएंगे। नया पैनल बनाया गया है। उसकी भी फाइनल ट्रायल की जाएगी। वर्तमान में बीना से भोपाल के बीच केवल विदिशा और सांची स्टेशनों के बीच तीसरी लाइन का नॉन इंटरलॉकिंग कार्य शेष रह गया है। अन्य सभी स्टेशन तीसरी लाइन से जुड़ चुके हैं।

सभी ट्रेनों पर पड़ेगा असर: रेलवे की तीसरी लाइन को रनिंग ट्रैक से जोड़ने के कारण इस रूट से निकलने वाली सभी ट्रेनों के संचालन पर असर पड़ेगा।

नान इंटरलाकिंग के चलते 15 किमी प्रति घंटे की स्पीड से निकाली जाएंगी सभी ट्रेनें
विदिशा और सांची के बीच ही रेलवे की तीसरी लाइन का कार्य शेष है। यह कार्य जल्द से जल्द पूरा कर लिया जाएगा। 15 अगस्त तक तीसरी लाइन पर ट्रेनें चलने लगेंगी। यह जानकारी शुक्रवार को विदिशा दौरे पर आए भोपाल डीआरएम शोभन चौधरी ने दी। डीआरएम यहां तीसरी लाइन के कार्य की प्रगति देखने के लिए आए थे। इसके अलावा उन्होंने रेलवे स्टेशन पर चल रहे प्लेटफार्म व प्रतीक्षालय हाल का भी जायजा लिया। श्री चौधरी सुबह 11.30 बजे विदिशा आए। इस दौरान डीआरएम रेलवे के तकनीकी अधिकारियों के दल के साथ प्लेट फार्म के रास्ते पैदल खरीफाटक रेलवे क्रॉसिंग तक पहुंचे। यहां उन्होंने शनिवार से शुरू होने वाले एनआई के कार्य से पूर्व की तैयारियों के संबंध में अधिकारियों से चर्चा कर दिशा निर्देश दिए। इसके बाद रेलवे स्टेशन पर आकर प्रतीक्षालय कक्ष पहुंचे। यहां पर डीआरएम से मिलने विदिशा नपा अध्यक्ष मुकेश टंडन भी पहुंचे। नपा अध्यक्ष ने डीआरएम के समक्ष कुछ प्रस्ताव भी रखे। इनमें कंपोजिट भवन के पास बनाए जा रहे समानांतर मार्ग को रेलवे स्टेशन तक जोड़ने व बंटीनगर स्थित अंडर ब्रिज में पानी भराव की समस्या दूर करने के लिए सीसीकरण व नाला निर्माण करने का प्रस्ताव रखा।

खबरें और भी हैं...