विज्ञापन

जयललिता के निधन पर पीएम ने कहा- वह हमेशा हमारी प्रेरणास्रोत बनी रहेंगी, सोनिया ने कहा- देश ने एक अच्छे नेता को खो दिया

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2016, 01:04 AM IST

पीएम ने उनके निधन पर गहरा दुख जताया। उधर राहुल गांधी ने कहा कि हमने एक महान नेता को खो दिया है।

जयललिता का जन्म मैसूर में मांड्या जिले के तमिल ब्राह्मण परिवार में 24 फरवरी 1948 को हुआ था। (फाइल) जयललिता का जन्म मैसूर में मांड्या जिले के तमिल ब्राह्मण परिवार में 24 फरवरी 1948 को हुआ था। (फाइल)
  • comment
नई दिल्ली. जे. जयललिता (68) का सोमवार की रात को चेन्नई के अपोलो हॉस्पिटल में 11:30 बजे निधन हो गया। पीएम ने उनके निधन पर गहरा दुख जताया। उन्होंने ट्वीट कर कहा- "जयललिता हमेशा गरीबों की भलाई के लिए सोचा करती थीं। वे हमे हमेशा प्रेरणा देती रहेंगी।" उधर, राहुल गांधी ने कहा कि हमने एक महान नेता को खो दिया है। हम उन्हें मिस करेंगे। और नेताओं ने क्या कहा...
- पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार की रात को ट्वीट में कहा- "जयललिता के निधन से काफी दुख पहुंचा है। उनके निधन से भारतीय राजनीति में एक बड़ा खालीपन आ गया।"
- "लोगों से उनका जुड़ाव, गरीबों और हाशिए पर मौजूद लोगों के कल्याण को लेकर उनकी चिंता हमेशा प्रेरणा का स्रोत रहेगी।"
- राहुल गांधी ने कहा- "हमने एक महान नेता खो दिया। महिलाएं, किसान, मछुआरे और हाशिए पर मौजूद लोग जयललिता की आंखों में अपना सपना देखते थे। हम जयललिताजी को मिस करेंगे।"
- बीजेपी प्रेसिडेंट अमित शाह ने कहा कि वह जयललिता के निधन से बेहद दुखी हैं।
- सोनिया गांधी ने कहा कि वह जयललिता के निधन से काफी दुखी हैं। देश ने एक अच्छे नेता को खो दिया।
- कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी ने कहा कि जयललिता लोगों की नब्ज पहचानती थीं। उनके जाने से एक राजनीतिक शून्य बन गया है।
- अमिताभ बच्चन ने कहा- "मैं जयललिता के निधन पर दुखी हूं। वे एक साहसी महिला थीं।"
- जावेद अख्तर ने कहा- "जयललिता के निधन से न सिर्फ तमिलनाडु की राजनीति पर, बल्कि पूरे देश पर गहरा असर पड़ेगा। वह शांत व्यक्तित्व वाली महिला थीं।
अरविंद केजरीवाल ने कहा- वे आम आदमी की लीडर थींं
- केजरीवाल ने सोमवार की रात को ट्वीट कर कहा- "अम्मा के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ। वे बहुत ही पॉपुलर लीडर थीं। आम आदमी की लीडर। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।"
राजनाथ ने शांति बनाए रखने की अपील की
- होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने तमिलनाडु की जनता से शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि हमने एक पॉपुलर नेता को खो दिया।
ममता ने कहा- वे हमेशा लोगों के दिल में बनी रहेंगी
- ममता बनर्जी ने कहा- "तमिलनाडु की जनता और एआईएडीएमके को बड़ी क्षति हुई है। दुख के इस समय में साहस बनाए रखें। जयललिता पॉपुलर, स्ट्रॉन्ग और करिश्माई लीडर थीं। वे हमेशा लोगों के दिल में बनी रहेंगी।"

नरेंद्र मोदी के साथ अम्मा। (फाइल) नरेंद्र मोदी के साथ अम्मा। (फाइल)
  • comment
अटल बिहारी वाजपेयी के साथ जयललिता। (फाइल) अटल बिहारी वाजपेयी के साथ जयललिता। (फाइल)
  • comment
सोनिया गांधी के साथ जयललिता। (फाइल) सोनिया गांधी के साथ जयललिता। (फाइल)
  • comment
डॉ. मनमोहन सिंह के साथ जयललिता। (फाइल) डॉ. मनमोहन सिंह के साथ जयललिता। (फाइल)
  • comment
26 घंटे तक सेहत को लेकर रहा सस्पेंस बना रहा। 26 घंटे तक सेहत को लेकर रहा सस्पेंस बना रहा।
  • comment
X
जयललिता का जन्म मैसूर में मांड्या जिले के तमिल ब्राह्मण परिवार में 24 फरवरी 1948 को हुआ था। (फाइल)जयललिता का जन्म मैसूर में मांड्या जिले के तमिल ब्राह्मण परिवार में 24 फरवरी 1948 को हुआ था। (फाइल)
नरेंद्र मोदी के साथ अम्मा। (फाइल)नरेंद्र मोदी के साथ अम्मा। (फाइल)
अटल बिहारी वाजपेयी के साथ जयललिता। (फाइल)अटल बिहारी वाजपेयी के साथ जयललिता। (फाइल)
सोनिया गांधी के साथ जयललिता। (फाइल)सोनिया गांधी के साथ जयललिता। (फाइल)
डॉ. मनमोहन सिंह के साथ जयललिता। (फाइल)डॉ. मनमोहन सिंह के साथ जयललिता। (फाइल)
26 घंटे तक सेहत को लेकर रहा सस्पेंस बना रहा।26 घंटे तक सेहत को लेकर रहा सस्पेंस बना रहा।
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन