--Advertisement--

पूर्व होम सेक्रेटरी राजीव महर्षि होंगे नए CAG, कल प्रेसिडेंट कोविंद दिलाएंगे शपथ

शशिकांत शर्मा का टेन्योर शुक्रवार को पूरा हो गया, उन्हें 23 मई, 2013 को कैग की जिम्मेदारी मिली थी।

Dainik Bhaskar

Sep 24, 2017, 12:20 PM IST
नियमों के मुताबिक, कैग का अप्व नियमों के मुताबिक, कैग का अप्व
नई दिल्ली. सीनियर आईएएस राजीव महर्षि (62) नए कंप्ट्रोलर एंड ऑडिटर जनरल (CAG) बनाए गए। सोमवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद उन्हें शपथ दिलाएंगे। वह शशिकांत शर्मा की जगह लेंगे। बता दें कि महर्षि 1978 बैच के राजस्थान काडर के आईएएस (रिटायर्ड) अफसर हैं। पिछले महीने ही उन्होंने होम सेक्रेटरी के तौर पर दो साल पूरे किए हैं। कैग के तौर पर महर्षि का टेन्योर तीन साल का होगा। कैग के अप्वाइंटमेंट के लिए ये नियम...
- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, शशिकांत शर्मा का टेन्योर शुक्रवार को पूरा हो गया, उन्हें 23 मई, 2013 को कैग की जिम्मेदारी मिली थी। इसके पहले शर्मा डिफेंस सेक्रेटरी थे। अब तीन साल तक कैग की कमान राजीव महर्षि के हाथों में होगी। नियम के मुताबिक, कैग का अप्वाइंटमेंट 6 साल के लिए या 65 की उम्र तक के लिए होती है, जो भी पहले पूरा हो जाए।
कौन हैं राजीव महर्षि?
- राजीव महर्षि 1978 बैच के राजस्थान काडर के आईएएस (रिटायर्ड) अफसर हैं। उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ ग्लासगो (यूके) से एमबीए की डिग्री ली है। इसके अलावा दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए और एमए की पढ़ाई की है।
- अब तक राजस्थान और केंद्र सरकार में अहम जिम्मेदारियां संभाल चुके हैं। सेंट्रल होम सेक्रेटरी के तौर पर पिछले महीने ही उन्होंने दो साल पूरे किए। इसके पहले वह राजस्थान सरकार में चीफ और इकोनॉमिक सेक्रेटरी भी रहे। ओवरसीज इंडियन अफेयर्स और केमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स डिपार्टमेंट के सेक्रेटरी का कामकाज देख चुके हैं।

क्या है कैग की जिम्मेदारी?

- कैग एक संवैधानिक पोस्ट है, जिसके पास केंद्र और राज्य सरकारों के अकाउंट्स का ऑडिट करने की जिम्मेदारी होती है। इसकी रिपोर्ट्स को संसद और विधानसभाओं में रखा जाता है, जिस पर सरकार और विपक्ष चर्चा करते हैं।
X
नियमों के मुताबिक, कैग का अप्वनियमों के मुताबिक, कैग का अप्व
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..