• Hindi News
  • India Lashes Out At Pakistan After Deadly Kashmir Encounter

गुस्‍से में देश : बयानबाजी नहीं, अब चाहिए पाकिस्‍तान पर एक्‍शन

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्‍ली। भारतीय सैनिकों के साथ पाकिस्‍तानी फौज की बर्बरता पर देश गुस्‍से में है। बहुत हुआ। अब और नहीं। कुछ इसी तरह की भावनाओं के साथ देश का आवाम अपना गुस्‍सा निकाल रही है। उनका गुस्‍सा नेताओं की कोरी बयानबाजी के खिलाफ है। वे अब ठोस कार्रवाई चाहते हैं। विशेषज्ञ भी ठोस कार्रवाई को ही वक्‍त की जरूरत बता रहे हैं।
पाकिस्‍तानी फौज की बर्बरता का शिकार हुए सौरभ कालिया के पिता ने कहा कि उन्‍हें भरोसा नहीं है कि भारत सरकार पाकिस्‍तान को इस तरह के कदम उठाने से रोक सकेगी। जनरल (रिटायर्ड) वीएस मलिक ने कहा कि अगर सौरभ कालिया का केस यूएन तक ले जाते तो पाकिस्‍तान दोबारा ऐसा करने से सोचता। हर घटना के बाद हम कहते हैं कि कड़ा विरोध करेंगे, लेकिन हम एक्‍शन कब लेंगे? वक्‍त बयानबाजी से ऊपर जाकर ठोस कार्रवाई करने का है।
पाकिस्तानी सैनिकों के द्वारा हिंदुस्‍तानी सीमा में घुसकर भारतीय सेना के दो जवानों की हत्‍या के बाद से पूरे देश में रोष है। हर बार हमारी सरकार पाकिस्‍तानी के साथ दोस्‍ती करने का प्रयास करती है तो हमारा पड़ोसी मुल्‍क पीठ पर छुरा घोंपता है। अभी मुंबई हमले के गुनहगार पाकिस्‍तान में खुले आम घूम रहे हैं, लेकिन भारत ने पाकिस्‍तान के साथ क्रिकेट सीरीज खेला। भारत की यह नरमी अब देश को नागवार गुजर रहा है। दैनिकभास्‍कर.कॉम के ज्‍यादातर पाठकों ने इसके खिलाफ प्रतिक्रिया दी है। सोशल साइट्स पर भी लोग भड़ास निकाल कर अपनी भावनाओं का इजहार कर रहे हैं।
दैनिक भास्‍कर के फेसबुक एकाउंट और वेबसाइट पर पर सैकड़ों की तादाद में लोग अपनी राय बेबाकी से जाहिर कर रहे हैं। इसी में से कुछ चुनिंदा राय यहां पेश हैं।
आजाद कमेंट बॉक्‍स में अपनी राय कुछ यूं जाहिर करते हैं। इंडिया की कांग्रेस सरकार जो हैं उसे सिर्फ पैसा चाहिए इसी लिए वो पाकिस्तान क्रिकेट टीम को इंडिया बुलाती हैं और उधर वो हमारे सेना का सिर काट के ले जाते तो ये बोलती है की हम पाकिस्तान से बात करेंगे। क्या पाकिस्तान से बात करने से हमारे जवान जो शहीद हुए हैं, वो जिन्दा हो जाएंगे।
उदयपुर के हरीश उपाध्‍याय लिखते हैं कि जब देश के अन्दर हुए हमलों पर चाहे वो दिल्ली का दुष्कर्म ही क्यों न हो हमारे युवा चुप नहीं बैठे, भ्रष्‍टा चार के खिलाफ युवाओं ने अन्ना की आवाज़ में आवाज़ मिलाई। तो आज जब एक पड़ोसी मुल्क हमारे जवानों के सिर काट कर ले गया तो युवा चुप कैसे बैठ गया?
रायपुर के मनोज कुमार सिंह पाकिस्‍तान से जंग चाहते हैं। वह लिखते हैं कि पाकिस्तान कॊ करारा जबाब दॆना ही हॊगा। वहीं, जोधपुर के रामेश्‍वर सिंह कहते हैं कि युद्व होना चाहिए। ऐसे भी हमारे भाई मर रहे हैं तो कुछ करके क्‍यों नहीं मरें। युद्व हो और कांग्रेस सरकार को खत्‍म करना चाहिए।
अगर आप भी राय देना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें, संबंधित खबरें पढ़ने के लिए नीचे के लिंक पर क्लिक करें...