पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झुके गृहमंत्री शिंदे, बयान पर जताया खेद, बीजेपी ने कहा बजट सत्र चलने देंगे

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली. भारत बंद और बीजेपी के विरोध के बीच गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने हिंदू आतंकवाद वाले अपने विवादित बयान पर खेद जताया है। जयपुर में कांग्रेस के चिंतन शिविर में दिए गए इस बयान के बाद विपक्षी दल बीजेपी शिंदे के खिलाफ काफी आक्रामक हो गई थी। बीजेपी ने बजट सत्र से पहले शिंदे से अपने बयान पर माफी की मांग की थी। ऐसा नहीं करने पर बीजेपी ने बजट सत्र न चलने देने की धमकी दी थी। शिंदे ने कहा कि उनके बयान का कोई आधार नहीं था। शिंदे के बयान पर बीजेपी ने संतोष जताया है और कहा कि अब बजट सत्र में पार्टी विरोध नहीं करेगी। बीजेपी नेता बलबीर पुंज ने कहा, गृहमंत्री ने काफी देरी से खेद जताया लेकिन देर आये, दुरुस्त आए। जदयू नेता शरद यादव ने भी बजट सत्र ठीक से चलने की उम्मीद जताई है।
बुधवार शाम को गृह मंत्री की तरफ से एक पत्र जारी कर अपने पुराने बयान पर खेद जताया गया। शिंदे ने कहा कि जयपुर में उनके बयान से गलतफहमी हुई। उनका इरादा आतंक को किसी धर्म से जोड़ने का नहीं था। हालांकि बीजेपी भी अपने रुख पर थोड़ी नरम हुई थी। बयान आने के बाद बीजेपी ने देशव्यापी विरोध किया था और गृहमंत्री से पद छोड़ने की मांग की थी। साथ ही बीजेपी ने शिंदे के सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों में उनका बहिष्कार करने की धमकी दी थी। इसके बाद बीजेपी गृहमंत्री से माफी मांगने पर अड़ गई थी। हालात को भांपते हुए गृह मंत्री ने बुधवार शाम को अपने बयान पर खेद जाहिर कर दिया।
20 फरवरी की खास खबरें

भारत बंद में गुरुवार को निजी कंपनियों के मजदूर भी होंगे शामिल

छत्‍तीसगढ़ के मिशन स्‍कूल में फादर ने किया चार छात्राओं के साथ रेप !

20 सेकंड में डाउनलोड हो जाती है 3 घंटे की मूवी!