पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भारतीय इंटरनेट पर वायरस का हमला

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली. भारतीय इंटरनेट सिस्टम पर खतरनाक कंप्यूटर वायरस बैमिटल का हमला हो गया है। देश की साइबर सुरक्षा एजेंसी कम्प्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (सीईआरटी-आईएन) ने इस हमलावर वायरस की पहचान की है।
सीईआरटी-आईएन के मुताबिक बैमिटल वायरस सर्च इंजन को अगवा कर ब्राउजिंग को धीमा कर उसे संदिग्ध वेबसाइट से जोड़ देता है। यानी वायरस प्रभावित इंटरनेट यूजर खुद-ब-खुद किसी एडवरटाइजिंग लिंक से जुड़ जाता है। एजेंसी ने इंटरनेट यूजर्स को चेताते हुए कहा है कि बैमिटल क्लिक करते ही हमला करने वाला वायरस है। यह इंटरनेट सिस्टम पर बैखौफ घूम रहा है।
कैसे करता है हमला
: इंटरनेट यूजर जैसे ही किसी सर्च रिजल्ट पर क्लिक करता है यह वायरस सक्रिय हो जाता है।
: इसके बाद यूजर इस वायरस से जुड़ी वेबसाइटों से जुड़ जाता है।
: वह बिना कुछ किए तरह-तरह के विज्ञापनों को देखने के लिए बाध्य होता है।
: यह वायरस उपभोक्ता को किसी सुरक्षा संबंधी वेबसाइट पर भी जाने से रोकने में सक्षम है।
ऐसे फैला
: यह वायरस पी2पी नेटवर्क से कुछ अपडेटेड फाइलों को डाउनलोड करने के बाद इंटरनेट सिस्टम पर फैला है।
आप कैसे बचें
: भरोसेमंद एंटी वायरस से अपने कम्प्यूटर को लैस करा लें।
: साथ ही किसी अनचाही वेब लिंक से दूर रहें।